in ,

निर्मला सीतारमण की जीवनी,Biography,Education,Political career hindi me

आजादी के कई दशकों बाद आज भी देश के कई क्षेत्रों में महिलाओं की भागीदारी बेहद सीमित है। भारतीय राजनीति भी इस अपवाद से अछूता नहीं है। ऐसे में एक महिला राजनीतिज्ञ ने न सिर्फ देश की सियासत में अहम किरदार निभाया बल्कि देश के दारोमदार को भी बखूबी संभाला। वो भारत की दूसरी महिला रक्षा मंत्री बनीं, इंदिरा गांधी के बाद वित्त मंत्रालय संभालने वाली दूसरी महिला बनी, तो बतौर वित्त मंत्री कार्यकाल पूरा करने वाली देश की पहली महिला भी बनीं। भारतीय सियासत में शून्य से शिखर तक का सफर तय करने वाली वह शख्सियत हैं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण।

नाम (nirmala sitharaman biography)निर्मला सीतारमण
जन्मदिन (nirmala sitharaman birthday)18 अगस्त 1959
जन्म स्थान (nirmala sitharaman born)मदुरै, तमिलनाडु
आयु (nirmala sitharaman age)61 वर्ष
पिता (nirmala sitharaman father)नारायणन सीतारमण
माता (nirmala sitharaman mother)सावित्री सीतारमण
पति (nirmala sitharaman husband)परकला प्रभाकर
बेटी (nirmala sitharaman daughter)पराकला वांग्मई
राजनीतिक पार्टी (nirmala sitharaman party)भारतीय जनता पार्टी (BJP)
Nirmala Sitharaman’s biography

निर्मला सीतारमण का शुरुआती जीवन (nirmala sitharaman background)

Nirmala Sitharaman’s jivani hindi mein

निर्मला सीतारमण का जन्म 18 अगस्त 1959 को मद्रास और आज के तमिलनाडु राज्य में हुआ था। तमिल परिवार (nirmala sitharaman cast) में जन्मी निर्मला के पिता का नाम नारायणन सीतारमण और माता का नाम सावित्री सीतारमण (nirmala sitharaman parents) था।

उन्होंने मद्रास और तिरुचिपल्ली से ही अपनी स्कूली शिक्षा (nirmala sitharaman education) पूरी की। निर्मला पढ़ने में हमेशा से एक मेधावी छात्रा थीं। 60 के दशक के भारत में जहां बहुत कम लड़कियां ही शिक्षा पूरी करती थीं, वहीं निर्मला सीतारमण के लिए पढ़ाई उनकी पहली प्राथमिकता थी।

उन्होंने 1980 में तिरुचिपल्ली के सेठालक्ष्मी रामास्वामी कॉलेज से अर्थशास्त्र (nirmala sitharaman graduation) में बी.ए किया। इसके बाद उन्होंने अर्थशास्त्र में ही मास्टर्स किया और फिर 1980 में जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय से अर्थशास्त्र (nirmala sitharaman economy) में एमफिल की डिग्री हासिल की।

हालांकि निर्मला सीतारमण के पति प्रभाकरण को लंदन में स्कॉलर्शिप मिल गई, जिसके कारण अर्थशास्त्र में पी.एच.डी  कर रही निर्मला को अपनी पढ़ाई अधूरी ही छोड़नी पड़ी थी।

यहाँ पढ़ें: नरेंद्र मोदी की जीवनी

पढ़ाई में अव्वल होने के बावजूद निर्मला हमेशा कड़ी मेहनत में यकीन रखती थीं। शायद यही कारण था कि लंदन में होने के बावजूद निर्मला हमेशा जमीनी स्तर से जुड़ी रहीं। उन्होंने लंदन की एक दुकान में बतौर सेल्समैन (nirmala sitharaman sales girl) नौकरी की। इसके बाद उन्हें ब्रटेन में ही एग्रीकल्चर इंजीनियर अशोसिएसन में एक अर्थशास्त्री की असिस्टेंट के तौर पर भी काम किया।

इसी दौरान निर्मला सीतारमण ने ब्रिटेन की मशहूर न्यूज एजेंसी ब्रिटिश ब्रॉडकास्ट कोरपोरेशन (बीबीसी) में सीनियर मैनेजर के पद पर भी काम किया।

निर्मला सीतारमण की राजनीति एंट्री (nirmala sitharaman political career)

निर्मला सीतारमण की जीवनी
निर्मला सीतारमण का राजनितिक सफर

साल 2006 में निर्मला सीतारमण भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गयीं। हालांकि इस दौरान जहां एक तरफ केंद्र में कांग्रेस सत्ता पर काबिज थी, तो वहीं दूसरी तरफ बीजेपी भी अपने कमबैक की जद्दोजहद में जुटी थी।

निर्मला सीतारमण की बीजेपी में एंट्री के साथ ही वो पार्टी में अपनी अहम जगह बनाने में कामयाब रहीं। यही कारण था कि महज चार साल बाद ही 2010 में उन्हें बीजेपी का प्रवक्ता नियुक्त कर दिया गया। बतौर प्रवक्ता निर्मला ने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया और आम जनता के बीच पार्टी की छवि को निखारने में महत्वपूर्ण भूमिका निभायी।

मोदी सरकार में निर्मला सीतारमण का पद (nirmala sitharaman and modi)

निर्मला सीतारमण की जीवनी,बायोग्राफी,नरेंद्र मोदी
Nirmala Sitharaman and Narendra Modi

 साल 2014 में बीजेपी ने भारी जनमत के साथ जीत का परचम लहराया। दिल्ली की गद्दी पर बीजेपी की वापसी मोदी लहर का ही परिणाम थी। लिहाजा सत्ता में आने के साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने न्यू इंडिया का बिगुल फूंक दिया।

जाहिर है न्यू इंडिया की न्यू सरकार में बहुत कुछ बदलने वाला था। इस बदलाव की फेहरिस्त में एक नाम महिलाओं की भागीदारी का भी था। इस दौरान न सिर्फ बड़ी संख्या में महिलाएं मोदी कैबिनेट का हिस्सा बनीं बल्कि कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारियों को भी बखूबी निभाया। इसी कड़ी में स्मृति ईरानी, सुषमा स्वराज और निर्मला सीतारमण (nirmala sitharaman lok sabha) का भी नाम शामिल था।

यहाँ पढ़ें: अमित शाह की जीवनी

निर्मला सीतारमण आंध्र प्रदेश (nirmala sitharaman constituency) से बतौर राज्यसभा सांसद संसद पहुंची और 2014 में मोदी कैबिनेट का हिस्सा बन गयीं। साल 2016 में निर्मला सीतारमण एक बार फिर कर्नाटक (nirmala sitharaman karnataka) से राज्यसभा सांसद बन गयीं।

केंद्रीय रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण (nirmala sitharaman defence minister)

Nirmala Sitharaman ki jivani and BJP
Nirmala Sitharaman and BJP

मोदी सरकार के आगाज के साथ मनोहर परिकर को देश का रक्षा मंत्री नियुक्त कर दिया गया। लेकिन 3 सिंतबर 2017 को निर्मला सीतारमण ने बतौर रक्षा मंत्री शपथ लेकर भारतीय राजनीति के इतिहास में एक नया अध्याय जोड़ दिया।

इस शपथ के साथ ही निर्मला देश की दूसरी महिला रक्षा मंत्री बन गयीं। इससे पहले देश की पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी रक्षा मंत्रालय का पदभार संभालने वाली पहली महिला बनी थीं।

जहां एक तरफ निर्मला सीतारमण देश की दूसरी महिला रक्षा मंत्री बनीं तो दूसरी तरफ साल 2019 तक इस पद पर बरकरार रह कर वो अपना कार्यकाल पूरा करने वाली देश की पहली महिला रक्षा मंत्री भी बन गयीं।

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (nirmala sitharaman fm)

साल 2019 में मोदी सरकार ने फिर से भारी बहुमत के साथ जीत का परचम लहराया और एक बार फिर निर्मला सीतारमण मोदी कैबिनेट का हिस्सा बनीं। पिछली सरकार में रक्षा मंत्रालय का कार्यभार बखूबी संभालने का ही परिणाम था कि इस बार उन्हें अहम जिम्मेदारी सौंपी गयी।

मोदी मंत्रिमंडल ने देश के वित्त मंत्रालय का दारोमदार निर्मला सीतारमण के हाथों में देने का फैसला किया। लिहाजा 31 मई 2019 को निर्मला सीतारमण ने देश की वित्त मंत्री के रूप में शपथ ग्रहण की।

इसी के साथ निर्मला इंदिरा गांधी के बाद देश की दूसरी महिला वित्तमंत्री भी बन गयीं। लेकिन जहां इंदिरा गांधी महज देश की अंतरिम वित्त मंत्री बनीं थीं, वहीं निर्मला सीतारमण पूर्णकालिक वित्त मंत्री के तौर पर शपथ लेने वाली देश की पहली महिला वित्त मंत्री भी बन गयीं।

फोब्स की सूची में निर्मला सीतारमण (nirmala sitharaman acheivements)

nirmala sitharaman fobes
Nirmala Sitharam and Fobes

महज कुछ ही सालों में भारतीय राजनीति में शून्य से शिखर तक का सफर तय कर चुकीं निर्मला सीतारमण न सिर्फ देश के लिए बल्कि पूरी दुनिया के लिए एक मिसाल बन गई। इसी का नतीजा था की अमेरिका की मशहूर पत्रिका फोब्स ने निर्मला का नाम दुनिया के सबसे प्रभावशाली लोगों में शुमार हो गया।

साल 2019 की फोब्स सूची (nirmala sitharaman fobes) में दुनिया के सौ सबसे प्रभावशाली लोगों में निर्मला सीतारमण 34वें स्थान के साथ दुनिया की सबसे प्रभावशाली शख्सियत बन गयीं।

निर्मला सीतारमण का निजी जीवन (nirmala sitharaman family)

दिल्ली में JNU (जवाहर लाल नेहरु विश्वविद्यालय) में पढ़ने के दौरान ही निर्मला सीतारमण की मुलाकात परकला प्रभाकर (nirmala sitharaman husband name) से हुई। प्रभाकर आंध्र प्रदेश के नरसापुरम से ताल्लुक रखते थे।

हालांकि कॉलेज के दिनों से ही निर्मला राजनीति में खासी दिलचस्पी लेती थीं। जहां निर्मला शुरु से ही भारतीय जनता पार्टी की तरफ लगाव रखती थीं, वहीं प्रभाकर कांग्रेस का हिस्सा थे।

बावजूद इसके निर्मला और प्रभाकर एक-दूसरे को पसंद करने लगे। लिहाजा साल 1986 में निर्मला सीतारमण और प्रभाकर शादी के बंधन में बंध गए।

निर्मला और प्रभाकर की एक बेटी (nirmala sitaraman daughter) भी है। जिसका नाम पराकला वांग्मई (nirmala sitharaman daughter name) है। वर्तमान में जहां निर्मला देश के वित्त मंत्रालय की बागडोर संभाल रहीं हैं, वहीं प्रभाकर आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू के संचार सलाहकार के रूप में कार्यरत हैं।

Reference –

2020,wikipedia, निर्मला सीतारमण की जीवनी

Written by Sakshi Pandey

I am enthusiastic and determinant. I had Completed my schooling from Lucknow itself and done graduation or diploma in mass communication from AAFT university at Noida.
A Journalist by profession and passionate about writing. Hindi content Writer and Blogger like to write on Politics, Travel, Entertainment, Historical events and cultural niche. Also have interest in Soft story writing.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

arvind kejriwal ki jivani

अरविंद केजरीवाल जीवनी – Biography of Arvind Kejriwal in Hindi Jivani

uddhav thackeray ki biography

उद्धव बाल ठाकरे की जीवनी, Uddhav Thackeray Biography in Hindi