imf full form in hindi – आईएमएफ फुल फॉर्म, िम्फ फुल फॉर्म

IMF full form in hindi? आईएमएफ़ का फुल फॉर्म क्या होता है? िम्फ फुल फॉर्म IMF क्या होता है? आईएमएफ की फुल फॉर्म, आई एम एफ (IMF) एक अंतर्राष्ट्रीय (International) संस्था है। यह संस्था अपने सदस्य देशों की वैश्र्विक आर्थिक स्थिति पर अपनी नजर बनाए रखती है और इसके साथ- साथ आई एम एफ (IMF)  अपने सदस्य देशों को आर्थिक (Financial) और तकनीकी (Technical) सहायता प्रदान करने का कार्य करता है।

इसके अलावा यह संगठन अंतर्राष्ट्रीय विनिमय दरों (Organization international exchange rates) को स्थिर बनाने का काम करता है। तथा विकास को बेहतर करने मे भी सहायता प्रदान करता है जिससे लोगों की बहुत सी परेशानियों का समाधान भी किया जा सकता है।

imf full form in hindi – आईएमएफ का फुल फॉर्म क्या होता है?

imf full formInternational Monetary Fund
imf full form in hindiअंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष
Formation July 1944
Type International financial institution
Headquarters Washington, D.C., U.S.
Region Worldwide
Membership 190 countries
Website IMF.org
IMF full form in hindi

िम्फ का फुल फॉर्म (IMF) का फुल फॉर्म होता है अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष। इसे इंग्लिश मे कहते हैं “International Monetary Fund” और हिंदी मे (इंटरनेशनल मोनेट्री फंड) कहते हैं।

यह संस्था (Institution) मुख्य रूप से पूरे विश्व (World) मे मौद्रिक (Monetary) सहयोग बढ़ाने, वित्तीय (Financial) स्थिरता लाने तथा अंतर्राष्ट्रीय व्यापार (International trade) मे मदद करने और आर्थिक वृद्धि (Economic growth) और अधिक रोज़गार (Employment) को प्रोत्साहित करने तथा विश्व भर मे से गरीबी को कम करने के लिए अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

What is IMF? आईएमएफ क्या है, फुल फॉर्म ऑफ िम्फ

IMF full form in hindi

आईएमएफ (IMF) एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था (International organization) है जिसमे 187 देश सम्मिलित हैं। यानी यह 187 देशों का एक संगठन (Organization) है। जो विश्व मे मौद्रिक सहयोग बढ़ाने, अंतर्राष्ट्रीय व्यापार मे मदद करने, वित्तीय स्थिरता लाने, अधिक रोज़गार तथा सतत आर्थिक वृद्धि को प्रोत्साहन देने और विश्व से गरीबी को कम करने के लिए काम करता है। यह अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष, (International Monetary Fund) अंतर्राष्ट्रीय तंत्र (International system) मे स्थिरता रखने मे मदद करता है।

यह मुख्य रुप से तीन प्रकार से काम करता है। वैक्ष्विक अर्थव्यवस्था (Global economy) और सदस्य देशों की अर्थव्यवस्थाओं पर निगरानी रखकर, भुगतान संतुलन में कठिनाई वाले देशों को ऋण देकर और सदस्यों को व्यावहारिक मदद देकर।

भारत मे अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का काम, भारत सरकार, रिजर्व बैंक तथा अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के बीच सूचना के प्रवाह में मदद देने तथा रिजर्व बैंक और राष्ट्रीय तथा राज्य सरकारों के अधिकारियों को प्रशिक्षण देने का है।

इसका मुख्यालय नई दिल्ली भारत मे हैं।  

Establishment of IMF आई एम एफ की स्थापना

full form of IMF
IMF full form in hindi

आई एम एफ (IMF) की स्थापना सन 1944 मे जुलाई के महीने मे हुई थी। इसकी स्थापना संयुक्त राष्ट्र मौद्रिक एवं सम्मेलन में हस्ताक्ष्रित समझौते के तहत हुई थी। इसके बाद यह 27 दिसंबर 1948 से प्रभावी हो गया था। इससे दुनिया भर के 189 देश जुड़े हुए है। प्रत्येक देश या क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कार्यकारी बोर्ड के सदस्य और कई स्टाफ के सदस्यों के द्वारा किया जाता है।

सभी देशों के बोर्ड के सदस्यों का अनुपात उस देश की वैक्ष्विक वित्तीय स्थिति पर आधारित होता है। जिससे वैक्ष्विक अर्थव्यवस्था में सबसे शक्तिशाली देशों का प्रतिनिधित्व भारी हो। जैसे- संयुक्त राज्य अमेरिका (United States) मतदान मे उच्चतम शक्ति है और इसके बाद एशियाई देश जापान (Japan) और चीन (China) तथा पश्चिमी यूरोपिय देशों मे ब्रिटेन, (UK) जर्मनी, (Germany) फ्रांस (France) और इटली (Italy) शामिल हैं।

How can any country join IMF? कोई भी देश आईएमएफ में कैसे शामिल हो सकता है?

अगर कोई भी देश आई एम एफ (IMF) का हिस्सा बनना चाहता है तो इसके लिए उसे आवेदन करना होता है। इसके लिए कोई भी देश आवेदन कर सकता है। IMF full form in hindi

Relationship between the International Monetary Fund and India अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष एंव भारत के बीच का संबंध

भारत एक ऐसा देश है, जो अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा (International currency) कोष के संस्थापक सदस्यों मे से एक कहा जाता है। भारत का वित्त मंत्री आई एम एफ (I M F)  में गवर्नर मंडल का पदेन गवर्नर कहलाता है, वही भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) दूसरा गवर्नर के नाम से जाना जाता है। full form of IMF अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund) में भारत का कोष वर्तमान में 2.44 प्रतिशत है जिससे भारत ने आई एम एफ (IMF) में आठवाँ (Eighth) सबसे बड़ा कोटा धारक का स्थान प्राप्त कर लिया है।  

भारत पहले से लेकर अब तक अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष full form of IMF (International Monetary Fund) के नीति- निर्माण एवं कार्य संचालन में भारत निरंतर योगदान प्रदान करता है। जहाँ भारत, अभी तक अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष से समय- समय पर अपनी आवश्यकतानुसार ऋण लेता रहा है, वहीं अब इस बहुपक्षीय संस्था (Multilateral institution) को ऋण (Debt) प्रदान करने का काम करने लगा है।

यहाँ पढ़ें : अन्य सभी full form

The purpose of the International Monetary Fund अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का उद्देश्य

1. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा (International currency) का प्रमुख उद्देश्य अंतर्राष्ट्रीय वित्तिय (Financial) एंव मौद्रिक स्थिरता (Monetary stability) को बनाये रखने के उपाय पर काम करना होता है।

2. अंतर्राष्ट्रीय व्यापार (International trade) के विस्तार व पुनरुत्थान करने के लिए वित्तिय आधार उपलब्ध कराने का काम करता है।

3. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष का उद्देश्य आर्थिक प्रगति को बढ़ावा देना है, गरीबी कम करना है, रोज़गार को बढ़ावा देना और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सुविधाजनक बनाना है।

4. अंतर्राष्ट्रीय मौद्रिक समस्याओं पर सहयोग व परामर्श हेतू एक तंत्र उपलब्ध कराती है

5. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund) का उद्देश्य एक स्थायी संस्था के माध्यम से अंतर्राष्ट्रीय मौद्रिक सहयोग को बढ़ावा देना लक्ष्य तय करना है।

6. मुद्रा कोष Monetary Fund विनिमय स्थिरता को प्रोत्साहित करता है और सदस्यों के बीच व्यवस्थित विनिमय प्रबंधन को बनाये रखता है तथा सदस्यों के मध्य चालू लेन- देन के संदर्भ में भुगतानों की एक बहुपक्षीय व्यवस्था की स्थापना में सहायता प्रदान करता है।

7. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund) व्यापार के विस्तार एवं संतुलित विकास को प्रोत्साहित करने का काम करता है तथा इस प्रकार से सभी सदस्यों के उत्पादन संसाधनों के विकास और रोज़गार व वास्तविक आय के उच्च स्तरों को कायम रखने मे महत्वपूर्ण योगदान देता है।

8. मुख्य रुप से सदस्यों को अस्थायी कोष (Temporary fund) उपलब्ध करा कर उन्हे अपने भुगतान संतुलनों के कुप्रबंधन से निपटने का अवसर एवं क्षमता प्रदान कराता है और सभी सदस्यों के अंतर्राष्ट्रीय भुगतान संतुलनों में व्याप्त अंसुतलन की मात्रा व अवधि को कम कराने के प्रयास में रहता है।

यहाँ पढ़ें : FYI full form in Hindi
यहाँ पढ़ें : PSI Full form in Hindi

Functions of the International Monetary Fund अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष के कार्य

1. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष International Monetary Fund देशों के बीच निश्चित विनिमय दर की व्यवस्था की निगरानी करता है। और अंतर्राष्ट्रीय आर्थिक संकटों को फैलाने से रोकने के लिए सहायता करने का काम करता था।

2. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष International Monetary Fund महामंदी और द्वितीय विश्व युद्ध के बाद अंतर्राष्ट्रीय अर्थव्यवस्था के टुकड़ों को सुधारने की कोशिश की थी इसके साथ ही, आर्थिक विकास और बुनियादी ढांचे जैसे परियोजनाओं के लिए पूँजी निवेश प्रदान करता था।

3. अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष International Monetary Fund वैश्विक विकास और आर्थिक स्थिरता को बढ़ावा देता है क्योंकि, जिससे वे विकासशील देशों के साथ काम कर, नीतिगत, सलाह और सदस्यों को वित्तपोषण करके व्यापक आर्थिक स्थिरता हासिल करने और गरीबी को कम करने में मदद करने मे महत्वपूर्ण भूमिका निभा सके।

निष्कर्ष- इस लेख मे हमने आपको आईएमएफ से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी देने की कोशिश की है जैसे आईएमएफ क्या होता है, इसका फुल फॉर्म क्या होता है? full form of IMF जैसे की हमने आपको बताया आईएमएफ का फुल फॉर्म होता है अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष International Monetary Fund।

यह एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है। इसके अलावा आईएमएफ के उद्देश्य तथा इसके कार्य, स्थापना आदि के बारे मे जानकारी दी है। अगर आपका इसके संबंध मे कोई सुझाव है तो आप हमे कमेंट बॉक्स मे कमेंट कर सकते हैं।

Related full form in hindi

TVS Full form in Hindi DRDO Full form In Hindi
ist full form in hindiPG full form in hindi
BC full form in hindiOYO Full Form in Hindi
GMT full form of in HindiOTT Full Form in Hindi 
AM and PM full form in hindiTRP Full Form in Hindi
IPS Full form in HindiMSP Full Form in Hindi
SI full form in hindinsso full form in hindi
IRS full form in hindisidbi full form in Hindi
PPS full form in hindiSEBI full form in hindi
FIR full form in Hindiirda full form in hindi
CBI full form in hindiimf full form in hindi
NRI full form in hindi NABARD full form in hindi
ED Full Form in HindiPMC Bank full form in hindi
RAC Full Form in HindiIMPS full form in hindi
BAE ful form in HindiDLF full form in hindi
Love full form in Hindibhel full form in hindi
BFF Full Form in HindiO.N.G.C full form in Hindi
TBH full form in Hindigail full form in hindi
OK full form in HindiMTNL Full Form in Hindi
IMAO full form in HindiHCL Full form in Hindi
STFU full form in HindiIYI full form in hindi
ETA full form in hindiDP full form in hindi
ASAP full form in hindi IKR full form in hindi 
hr full form in hindiFYI full form in hindi 
CV full form in HindiID Full Form in hindi
MLC full form in hindiMLA Full Form in Hindi
kyc full form in hindiDCA full form in Hindi
SOS full form in Hindirpm full form in hindi
cc full form in Hindiunesco full form in Hindi
noc full form in Hindippt full form in Hindi

I am a technology enthusiast and write about everything technical. However, I am a SAN storage specialist with 15 years of experience in this field. I am also co-founder of Hindiswaraj and contribute actively on this blog.

Leave a Comment