cc full form in hindi, सीसी का फुल फॉर्म क्या है, सीसी फुल फॉर्म

Table Of Contents
show

Full form of CC सीसी का फुल फॉर्म क्या होता है? सी सी (CC) in Hindi क्या होता है? सीसी (CC) का हिंदी मे पूरा नाम क्या होता है? सीसी (CC) की शुरुआत कैसे हुई आदि। अगर आप भी इन सब सवालों का जवाब नही जानते तो आपको परेशान होने की आवश्यकता नही है। क्योंकि इस लेख मे हम आपको सीसी (CC) से संबंधित सभी जानकारी देने वाले हैं। इस लेख को पढ़ने से आपके सभी सवालों का जवाब आपको मिल जाएगा।

What is the full form of CC in Hindi? सीसी का फुल फॉर्म क्या होता है?

full form of CC in HindiCarbon Copy
full form of CCकार्बन कॉपी
full form of CC

सीसी (CC) का फुल फॉर्म होता है “कार्बन कॉपी” जिसको इंग्लिश मे लिखते हैं “Carbon Copy” कार्बन कॉपी एक प्रचलित शब्द है जिसका उपयोग आज भी किया जाता है। हांलाकि यह जिस प्रक्रिया का मूल रुप से वर्णन करता है उसका अभी इतना प्रचलन नही है।

सीसी (CC) का उपयोग – cc full form in mail

full form of CC

full form of cc in mail – सीसी (CC) का अभी जो उपयोग किया जाता है वो मूल रूप से ईमेल (E-mail) के लिए किया जाता है। अगर आपको अपने किसी दोस्त को कोई को मेल (E-mail) भेजना है और अगर आप ये चाहते हैं की आपके बाकी दोस्तों को भी इसके बारे मे पता रहे कि आपने क्या मेल भेजा है तो आप अपने अन्य दोस्तों का ईमेल (E-mail) आईडी सीसी (CC) फ़ील्ड मे डाल सकते हैं। सीसी (CC) मे डालने से आपके सभी दोस्तों को मालूम रहेगा कि ईमेल किस- किस को भेजा गया है। और उन सभी के ईमेल भी आपस मे एक दूसरे को दिख जाएंगे।

 अगर आप किसी कंपनी मे हैं और आपको किसी क्लाइंट (client) को कोई मेल (E-mail) करनी है और आपका बॉस चाहता है कि उन्हे भी वह मेल मिले तो आप अपने बॉस का मेल आईडी सीसी (CC) मे रख सकते हैं। इससे आप जो मेल (client) क्लाइंट (client) को लिख रहे हैं उसकी कार्बन कॉपी (Carbon Copy) आपके बॉस को भी मिल जाएगी।

अगर आप अपने बॉस का मेल आईडी सीसी (CC) मे रखते हैं तो इसके द्वारा आपके कस्टमर(client) को भी आपके बॉस का मेल आईडी दिख जाएगा। इसलिए अगर आप चाहते हैं कि आपके क्लाइंट (client) को आपके बॉस का ईमेल एड्रेस (E-mail) न दिखे तब इसके लिए आपको अपने बॉस के ईमेल (E-mail) आईडी को सीसी (CC) के स्थान पर बी सी सी (BCC) मे रखना चाहिए। बी सी सी BCC मे ईमेल डालने से मुख्य पर्सन को दूसरे व्यक्ति के बारे मे जानकारी नही मिलती है।

सीसी (CC) का उपयोग कितने प्राप्त कर्ता के लिए कर सकते हैं।

सीसी (CC) शब्द का उपयोग ईमेल (E-mail) इस्तेमाल करने वाले यूज़र्स (Users) के बीच मे बहुत लोकप्रिय है। कुछ लोग अपने ईमेल (E-mail) आईडी को सीसी (CC) मे प्राप्तकर्ता के नाम के साथ भी रखते हैं।

सीसी (CC) का उपयोग एक से अधिक प्राप्त कर्ताओं के लिए कर सकते हैं। दूसरे तरीके से सोचे तो इससे आपके समय की भी बचत होती है। जैसे मान लीजिए आप किसी बड़ी कंपनी मे काम करते हैं और आपको एक ही प्रकार का मेल एक से ज़्यादा लोगों को भेजना है तो आपको अलग- अलग भेजने की आवश्यकता नही होती है आप बस एक मेल लिख कर सभी को सीसी (CC) के माध्यम से एक साथ भेज सकते हैं। इससे आपके समय की भी बचत होती है।

what is cc and bcc in mail in hindi

full form of CC
full form of CC

आज के समय मे सीसी के साथ बीसीसी (BCC) का भी उपयोग ईमेल (E-mail) पर बहुत किया जाता है। बीसीसी का मतलब होता है ब्लेंक कार्बन कॉपी। (Blank Carbon Copy)

कार्बन कॉपी किसी भी चीज़ का सटीक डुप्लिकेट (Duplicate) होता है। मूल रूप से एक कार्बन कॉपी मे टाइपराइटर (Typewriter) के दो पेपर के बीच कार्बन पेपर रखकर बनाए गए दस्तावेज़ (document) का ही एक प्रतिरूप दस्तावेज होता है कार्बन कॉपी।

Carbon paper invention कार्बन पेपर का अविष्कार

कार्बन पेपर का आविष्कार सन 1800 के दशक के अंत मे किया गया था। यह कागज के नीचे की तरफ सूखी स्याही से बना होता है। और उपर की तरफ मोम होता है। जब टाइपराइटर की चाबी कागज़ से टकराती है तो दवाब पड़ने के कारण कार्बन पेपर की स्याही को पेपर से जोड़ देता है।

अधिकांशत: कार्बन पेपर की स्याही बैंगनी रंग की होती है इसके साथ ब्लेक कार्बन पेपर भी आते हैं और बहुत ही कम लाल पेपर भी होते है। शाब्दिक कार्बन कॉपियां अब नही देखी जाती हैं क्योंकि टाइपराइटर उपयोग से बाहर हो गए हैं।

Carbon Copy कार्बन कॉपी शब्द का उपयोग

वर्तमान समय मे कार्बन कॉपी (Carbon Copy) शब्द का उपयोग दो प्रकार से किया जाता है पहला किसी भी चीज़ का डुप्लिकेट (Duplicate) और दूसरा ईमेल (E-mail) मे किसी को सीसी (CC) मे रखकर भेजे गए मेल के लिए।

सीसी (CC) और बीसीसी (BCC) मे अंतर

जब किसी को भी सीसी (CC) मे रख कर ईमेल (E-mail) करते हैं तो अन्य प्राप्त कर्ताओं को भी वह दिखाई देता है तथा सीसी (CC) मे रखे गए मेल (E-mail) का एड्रेस भी दिखाई देता है।

जबकि बीसीसी (BCC) का मतलब होता है ब्लाइंड कार्बन कॉपी। (blind carbon copy) इसमे रखे गए मेल (E-mail) को कोई भी व्यक्ति नही देख सकता। उन्हे यह नही पता चलता की किसी और को ईमेल गई है और न ही उन्हे मेल एड्रेस दिखता है।

जिस व्यक्ति को बीसीसी (BCC) मे रखा जाता है वह सीसी(CC) मे रखे गए व्यक्ति की अन्य चीज़े देख सकता है जबकि बीसीसी सूची गुप्त होती है उसे प्रेषक को छोड़कर कोई नही देख सकता।  

यहाँ पढ़ें : अन्य सभी full form

सीसी और बीसीसी का उपयोग कब करें

सीसी का उपयोग करें

1. जब आप किसी ऐसे व्यक्ति को ईमेल की एक प्रतिलिपि देना चाहते हों जो प्राथमिक प्राप्तकर्ताओं मे नही हो।

2. जब संदेश प्राप्त करने वाले सभी व्यक्ति एक दूसरे को आपस मे जाने और सबको एक ही संदेश देना हो।

बीसीसी का उपयोग करें

1. जब आप चाहते हैं कि कोई अन्य व्यक्ति ई मेल प्राप्त करे लेकिन आप यह नही चाहते कि ईमेल के प्राथमिक प्राप्त कर्ता को इसके बारे मे जानकारी मिले कि आपने अन्य किसी को मेल भेजा है।

जैसे आप किसी को कंप्लेंट लिख रहे हैं और उसके साथ बीसीसी मे मुख्य अधिकारी को रखते हैं तो उनके पास भी इस बात का रिकॉर्ड रहेगा और मेल प्राप्त कर्ता को इसकी जानकारी नही होगी।

2. जब आपको एक मेल अधिक लोगों को भेजना हो और आप चाहते हैं की अन्यों को इसकी जानकारी न हो तो आप उन्हे बीसीसी मे रख सकते हैं।

Other full form of CC सीसी का अन्य फुल फॉर्म

जैसे की हमने आपको बताया की full form of CC सीसी का फुल फॉर्म कार्बन कॉपी होता है यह ईमेल की भाषा के लिए इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सीसी का एक और फुल फॉर्म भी होता है लेकिन यह अलग क्षेत्र मे होता है। इसका मतलब होता है “क्यूबिक केपेसिटी” (Cubic capacity) इसका मतलब होता है घन क्षमता। यह एक इंजन की क्षमता और आकार को संदर्भित करता है। घन क्षमता को आमतौर पर घन सेंटीमीटर मे मापा जाता है।

सीसी इंजन की क्षमता को निर्धारित करता है। यदि सीसी अधिक है तो इंजन अधिक शक्तिशाली होता है लेकिन यह ईंधन की अर्थव्यवस्था को कम करेगा क्योंकि यह अधिक ईंधन की खपत करेगा।

FAQ

Why is it called Carbon Copy? – इसे कार्बन कॉपी क्यों कहा जाता है?

यह शब्द यांत्रिक और बाद में इलेक्ट्रॉनिक टाइपराइटर (1879-1979) के दिनों से लिया गया है, जब कार्बन पेपर नामक एक विशेष शीट को कार्बन पेपर नामक टाइप शीट में डालकर कागज की टाइप शीट की प्रतियां बनाई जाती थीं। आज, शिष्टाचार की नकल शब्द का उपयोग कभी-कभी किया जाता है।

What does it mean to carbon copy an email? – किसी ईमेल की कार्बन कॉपी करने का क्या मतलब है?

वास्तव में, ईमेल में CC फ़ील्ड ईमेल भेजने वाले को ईमेल के To फ़ील्ड में प्राप्तकर्ता के अलावा किसी को ईमेल की “कार्बन कॉपी” भेजने की अनुमति देता है। ईमेल में CC फ़ील्ड आपको लूप में प्राप्तकर्ताओं को रखने देता है।

How does carbon copy work? – कार्बन कॉपी कैसे काम करती है?

कार्बन पेपर में कागज की एक शीट शामिल होती है जो मोम के साथ कार्बन ब्लैक (कालिख) की एक परत के साथ लेपित होती थी। जब एक मूल और कागज के दूसरे टुकड़े के बीच रखा जाता है, तो कार्बन पेपर एक टाइपराइटर या पेन द्वारा लगाए गए दबाव द्वारा बनाए गए निशान को स्थानांतरित कर देगा।

Is BCC really hidden? – क्या सच में छिपा है BCC?

BCC का अर्थ है “अंधा कार्बन कॉपी।” सीसी के विपरीत, कोई भी लेकिन प्रेषक बीसीसी प्राप्तकर्ताओं की सूची नहीं देख सकता है। BCC सूची में कोई व्यक्ति CC सूची और ईमेल की सामग्री सहित अन्य सभी चीजें देख सकता है। हालाँकि, BCC सूची गुप्त है – प्रेषक को छोड़कर कोई भी इस सूची को नहीं देख सकता है।

What happens if someone replies to a BCC email? – अगर कोई बीसीसी ईमेल का जवाब देता है तो क्या होगा?

जिन पते को BCC फ़ील्ड में रखा गया है, उन्हें अग्रेषित नहीं किया गया है। यदि आपने To या CC फ़ील्ड में प्राप्तकर्ताओं की एक बड़ी सूची रखी है, तो उन सभी को उत्तर मिल जाएगा। BCC फ़ील्ड में प्राप्तकर्ताओं को रखकर, आप उत्तर सभी सुविधा का उपयोग करके किसी से भी अनावश्यक उत्तर प्राप्त करने से उन्हें बचाने में मदद कर सकते हैं।

What is the purpose of BCC? – बीसीसी का उद्देश्य क्या है?

BCC, जो नेत्रहीन कार्बन कॉपी के लिए होता है, आपको ईमेल संदेशों में प्राप्तकर्ताओं को छिपाने की अनुमति देता है। संदेशों में To: फ़ील्ड और CC: (कार्बन कॉपी) फ़ील्ड के पते दिखाई देते हैं, लेकिन उपयोगकर्ता BCC: फ़ील्ड में आपके द्वारा शामिल किए गए किसी व्यक्ति के पते नहीं देख सकते हैं।

Is CC still used in letters? – क्या सीसी अभी भी अक्षरों में उपयोग किया जाता है?

व्यवसाय पत्र के लिए यह अभी भी सामान्य है, अंत में, संक्षिप्त नाम “सीसी” से पहले नामों की एक सूची है, जो दर्शाता है कि नामांकित व्यक्ति पत्र की प्रतियां प्राप्त करना चाहते हैं, भले ही कार्बन पेपर का उपयोग करने के लिए उपयोग नहीं किया जाता है।

What is CC and BCC in email with example? – ईमेल में CC और BCC क्या है?

Cc का मतलब है कार्बन कॉपी और Bcc का मतलब है अंधा कार्बन कॉपी। ईमेल करने के लिए, आप Cc का उपयोग तब करते हैं जब आप दूसरों को सार्वजनिक रूप से कॉपी करना चाहते हैं, और जब आप इसे निजी रूप से करना चाहते हैं तो Bcc। ईमेल की Bcc लाइन पर कोई भी प्राप्तकर्ता ईमेल पर दूसरों को दिखाई नहीं देता है।

Is carbon copy paper toxic? – क्या कार्बन कॉपी पेपर विषाक्त है?

कार्बन पेपर से निकलने वाली धूल न केवल ज्वलनशील होती है, बल्कि सांस लेने पर सांस की समस्या भी पैदा कर सकती है। यदि त्वचा पर बड़ी मात्रा में कार्बन मिलता है, तो यह खुजली और एक दर्दनाक दाने का कारण भी बन सकता है।

Can carbonless copy paper be recycled? – क्या कार्बन रहित कॉपी पेपर को पुनर्नवीनीकरण किया जा सकता है?

यदि आप इसे रब सकते हैं, तो आप इसे रीसायकल कर सकते हैं। पेपर रिसाइकिलिंग टिप रबर बैंड और धातु नोटबुक सर्पिल को हटा देता है (स्टेपल और पेपर क्लिप ठीक हैं)

निष्कर्ष- दोस्तों इस लेख मे हमने आपको सीसी से संबंधित जानकारी देने की कोशिश की है जैसे सीसी का फुल फॉर्म क्या होता है? What is the full form of CC in Hindi? सीसी का फुल फॉर्म होता है “Carbon Copy” यह ईमेल के क्षेत्र मे इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा सीसी का एक और फुल फॉर्म होता है जिसका मतलब होता है “Cubic capacity” इस शब्द का उपयोग इंजन के क्षेत्र मे किया जाता है।

इसके अलावा हमने आपको सीसी क्या होता है, कब इस्तेमाल किया जाता है और सीसी तथा बीसीसी मे क्या अंतर होता है इससे संबंधित सभी जानकारी दी है। अगर आपका इसके संबंध मे कोई भी सुझाव है तो आप हमे कंमेट बॉक्स मे कमेंट कर सकते हैं।

Reference-
2020, full form cc, wikipedia

Leave a Comment