सबसे खूबसूरत बच्चा | अकबर बीरबल की कहानियाँ | Akbar Birbal Story in Hindi | sabse khubsurat baccha akbar birbal ki kahani

सबसे खूबसूरत बच्चा | अकबर बीरबल की कहानियाँ | Akbar Birbal Story in Hindi | sabse khubsurat baccha akbar birbal ki kahani, अकबर-बीरबल की कहानी: सबसे खूबसूरत बच्चा Akbar-Birbal Story: The Most Beautiful Child, दुनिया का सबसे खूबसूरत बच्चा


यहाँ पढ़ें : अकबर बीरबल की रोचक कहानियाँ

सबसे खूबसूरत बच्चा | अकबर बीरबल की कहानियाँ | Akbar Birbal Story in Hindi | sabse khubsurat baccha akbar birbal ki kahani

बादशाह अकबर अक्सर अपनी राजधानी के आसपास के गांवों में जाकर यह देखते थे कि वहां सभी गांव वाले आपस में प्रेम से रहते हैं या नहींऔर वहां के नागरिकों को किसी प्रकार की कोई समस्या तो नहीं है। ऐसे में बीरबल हमेशा उनके साथ रहते थे। गावों के आसपास के खेतों एवं बागों की शोभा देखते हुए चलते थे। वे दोनों अपने अपने घोड़ों पर सवार रहते थे।

 एक बार अकबर और बीरबल किसी खेत के पास से गुजर रहे थे। तभी उन्होंने एक महिला को देखा, जो अपने बच्चे को दुलार कर रही थी। जब बच्चे ने मां को प्यार से देखा, तो मां ने बड़े लाड से अपने बच्चे का माथा चूम लिया। अकबर को बहुत अच्छा लगा। लेकिन जब उनकी नजर बच्चे पर गई, तो वे हैरान रह गए।  वह मरियल और काला सा बालक था।

sabse khubsurat baccha
sabse khubsurat baccha

 बादशाह अकबर अपनी हैरानी को नहीं छिपा सके और बीरबल से बोले, “ बीरबल एक बात बताओ। क्या तुम उस महिला को अपने बच्चे के साथ खेलते हुए देख रहे हो?”

जी जहांपना मैं उन्हें देख रहा हूं।” बीरबल ने कहा। “ जरा उस बालक को देखो, कितना दुबला और  बदशक्ल दिख रहा है। उसकी मां उसे इतना प्यार कैसे कर सकती है?  क्या उसे दिखाई नहीं देता कि उसका बच्चा कितना  बदसूरत है?”

 बीरबल अकबर के मुख से ऐसे शब्द सुनकर चौंक उठे। फिर बोले, “ जहांपना, मां की रचना तो ईश्वर ने की है। उसके लिए तो इस संसार में सब कुछ बहुत प्यारा और सुंदर होता है। उसे हर चीज में सुंदरता दिखाई देती है। लेकिन जब उसके बालक की बात आती है, तो मैं उसे निस्वार्थ भाव से दुलार करती है। उसके लिए बच्चे की सुंदरता कोई मायने नहीं रखती। बालक को मां अपने गर्भ में रखकर पालती है और जब बच्चा इस दुनिया में आता है, तो यह उसके लिए सबसे बड़ी खुशी की बात होती है। अतः 1 मां के लिए कोई भी बच्चा बदसूरत या मरियल नहीं होता।”

यहाँ पढ़ें : Munshi Premchand Short Stories
vishnu sharma ki 101 panchtantra kahaniyan in hindi
vikram betaal stories in hindi

 बादशाह अकबर को अपने शब्दों पर बढ़ा खेद हुआ। उन्हें किसी की संतान के लिए ऐसे शब्दों का प्रयोग नहीं करना चाहिए था। परंतु बादशाह संसार के सबसे सुंदर बालक को देखना चाहते थे। उन्होंने कहा, “ बीरबल मैं समझ गया कि तुम क्या कहना चाहते हो। मैं दुनिया के सबसे सुंदर बालक को देखना चाहता हूं। क्या तुम इसमें मेरी मदद कर सकते हो?”बीरबल ने कहा, जहांपनाह मैं आपके लिए ऐसा कर सकता हूं, परंतु आपको कल तक इंतजार करना होगा।”

 अगले दिन बीरबल ने दरबार मैं दरबान से कहा कि वे दुनिया का सबसे सुंदर बालक लाकर बादशाह के सामने पेश करें। कुछ समय बाद दरबान ने आकर कहा, “ जहांपना यह दुनिया का सबसे सुंदर बालक।” बादशाह ने पूछा, “ तुम कैसे कह सकते हो यही बालक दुनिया का सबसे सुंदर बालक है?”

 दरबान बोला कि जब उसने अपनी पत्नी से इस बारे में पूछा, तो उसने कहा कि उनका बेटा ही दुनिया का सबसे सुंदर बालक है।  इसलिए उसे ही दरबार में ले जाना चाहिए।

बादशाह अकबर को एहसास हुआ कि बीरबल ने झूठ नहीं कहा था। हर मां को अपना ही बालक सबसे सुंदर दिखाई देता है।

अकबर बीरबल की कहानियाँ – सबसे खूबसूरत बच्चा | Akbar Birbal Animated Moral Stories | Shemaroo kids 

sabse khubsurat baccha

संबंधित: अकबर बीरबल की अनूठी कहानियाँ

असली सुंदरता कहां
चूड़ियों की गिनती
अकबर ने की परख
उलझन सुलझ गई
अकबर का सपना

Leave a Comment