in

Full form of MIS in Hindi – एमआईएस का फुल फॉर्म क्या होता है

Full form of MIS एमआईएस का फुल फॉर्म क्या होता है? एमआईएस (MIS) क्या है, इसके क्या फायदे हैं, एमआईएस के क्या लाभ हैं, अगर आपके भी ये सवाल हैं आप एमआईएस (MIS) के बारे मे जो भी जानना चाहते हैं उन सभी सवालों के जवाब और जानकारी आपको इस लेख मे मिल जाएगी। क्योंकि आज इस पोस्ट मे हम आपको एम आई एस (MIS) के बारे मे संपूर्ण जानकारी दे रहे हैं।

What is the full form of MIS in Hindi? एमआईएस का फुल फॉर्म क्या होता है?

full form of MISManagement Information System
full form of MIS in Hindiप्रबंध सूचना प्रणाली
full form of MIS

एमआईएस का फुल फॉर्म होता है “मैनेजमेंट इंफोरमेशन सिस्टम” जिसे हिंदी मे कहते है “प्रबंध सूचना प्रणाली”  इसे इंग्लिश मे लिखते हैं (Management Information System) एमआईएस (MIS) का एक मतलब और भी होता है वो है Monthly Income Scheme दरअसल इसको एक सिस्टम रिपोर्टिंग टूल भी कहा जाता है जो अकाउंट से लेकर स्कूल, कॉलेज और कई तरह के फ़ील्ड मे प्रयोग किया जाता है।

एमआईएस (MIS) मे ट्रांज़ेक्शन सिस्टम, (Transaction system) डिसिज़न सिस्टम, (Decision System) एक्सपर्ट सिस्टम,(Expert system) एक्ज़िक्यूटिव इंफोरमेशन सिस्टम (Executive Information System) आदि शामिल हैं।

What is MIS एमआईएस क्या है?

full form of MIS

एम आई एस MIS एक प्रकार की प्रबंधन प्रणाली है जिसे अलग- अलग ऑर्गनाइजेशन (Organization) को सूचना उपलब्ध कराने के लिए बनाया गया है। इसे एक प्रकार से संगठन भी कहा जाता है। इसके माध्यम से ऑर्गनाइजेशन (Organization) को निर्णय लेने मे आसानी होती है। इसका मतलब यह है कि एमआईएस तकनीक ऑर्गनाइजेशन (MIS Technology Organization) तथा लोगों का अध्ययन है।

एम आई एस MIS सिस्टम का इस्तेमाल मुख्य रूप से व्यापार के शिक्षा अध्ययन मे किया जाता है। इसके अलावा इस शब्द को सूचना प्रणाली, ई कॉमर्स, (E commerce) प्रौधोगिकी, (Technology) सूचना विज्ञान (information Science) और कंप्यूटर विज्ञान (computer science) के सेक्टर मे भी किया जाता है।

मैनेजमेंट (Management) के सेक्टर मे होने वाले शब्द मैनेजमेंट इंफोर्मेशन सिस्टम (Management information system) ई आई पी (EIP) और आई टी एम लोगों मे उलझन पैदा करते हैं। इसलिए प्रबंधन को अलग- अलग विभाग मे बांट दिया गया है जो अलग- अलग सेक्टर मे उपयोग किया जाता है यह इस प्रकार है-

1. एग्ज़िक्यूटिव इंफोरमेशन सिस्टम- ( Executive Information System) इस सिस्टम को एक रिपोर्टिंग टूल भी कहा जाता है जो हर प्रकार की कंपनियों तक रिपोर्ट पहुँचाता है।

2. डिसिज़न सपोर्ट सिस्टम- (Decision support system) इसे मुख्य रूप से मध्यम और उच्च स्तर द्वारा प्रयोग किया जाता है जो समस्या के समाधान के लिए और निर्णय लेने के लिए ज़रिया और जानकारी इकट्ठा करता है।

3. मैनेजमेंट इंफोरमेशन सिस्टम- (Management information system) इसके अंतर्गत लेन देन संस्करण प्रणालियों से मध्य और परिचालन स्टेज के प्रबंधकों से निकाले गए डेटा के आधार पर नियमित रुप से एक रिपोर्ट तैयार की जाती है। जिससे बड़ी परेशानियों का भी समाधान हो जाता है।

4. मार्कटिंग इंफोरमेशन सिस्टम- (Marking Information System) यह ट्रेड्स और मार्कटिंग के विषयों को मेनेज करता है।

5. अकाउंटिग इंफोरमेशन सिस्टम- (Accounting information system) इसके माध्यम से व्यापार मे अकाउंटिग फंक्शन की देख रेख भी की जाती है।

6. ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट सिस्टम- (Human Resource Management System) इसके माध्यम से श्रमिकों और कर्मचारियों की गतिविधियों और समस्याओं का समाधान किया जाता है।

7. ऑफिस ऑटोमेशन सिस्टम- (Office automation system) काम को स्वचालित करने और उनकी बाधाओं को दूर करने के लिए इस सिस्टम का निर्माण किया गया है जो संचार और उत्पादकता का समर्थन करता है।

8. स्कूल एवं कॉलेजों की इंफोरमेशन के लिए सिस्टम- (System for Information of Schools and Colleges) यह प्रणाली शिक्षा के क्षेत्र जैसे स्कूल, कॉलेज में भी काम करती है जिसके माध्यम से अच्छी सुविधा प्रदान की जा सके।

The three main elements of MIS एमआईएस के तीन मुख्य भाग (एलिमेंट)

full form of MIS
full form of MIS

कंप्यूटर के आने से पहले सभी बड़ी- बड़ी कंपनियों, फर्म, स्कूलों आदि मे डेटा को स्टोर करना बहुत मुश्किल होता था। full form of MIS पहले ये सभी काम पेपर पर किया करते थे जो थोड़ा मुश्किल होता था और डेटा के रख रखाव को लेकर भी बड़ी परेशानी हुआ करती थी। जब कंप्यूटर आए तब उससे काम बहुत आसान हो गया लेकिन तब भी डेटा के रख रखाव के लिए थोड़ी परेशानी आती थी। डेटा को आसानी से स्टोर करने के लिए एमआईएस सॉफ्टवेयर बनाए गए। 

एमआईएस के नाम से ही स्पष्ट हो जाता है कि इसके तीन भाग होते हैं एम आई एस।

Management
Information
System
full form of MIS

1. Management- यह एक प्रक्रिया है जिसमे लोग एक दूसरे के साथ मिलकर संस्था के लक्ष्य को पूरा करने के लिए कार्य करते हैं। इस श्रेणी मे निर्णय कर्ता आते हैं जो निर्णय लेते हैं और सारा मैनेजमेंट का कार्य भार संभालते हैं।

2. Information– यह किसी भी संस्था के लिए ईंधन की तरह काम करता है क्योंकि बिना जानकारी के कोई भी संस्था ठीक ढंग से काम नही कर सकती है। जानकारी और डेटा के दो अलग- अलग बिंदू होते हैं जानकारी वह संसाधित डेटा होता है जो डेटा का अधूरा तथा अव्यवस्थित तथ्य होता है।

3. System- सिस्टम के माध्यम से ही जानकारी डेटा मे संसाधित होती है। सिस्टम परस्पर आपस मे जुड़े हुए तथा एक दूसरे पर निर्भर सामग्री का एक समूह होता है जो एक कॉम्प्लेक्स इकाई होती है।

Benefits of MIS एमआईएस का उपयोग और लाभ

एमआईएस का उपयोग मुख्य रूप से सही जानकारी, सही व्यक्ति को सही जगह और सही रूप मे देना है। यह जानकारी रिपोर्ट के रूप मे दैनिक और साप्ताहिक रुप से अपडेट की जाती है। यह केवल ऑर्गनाइजेशन (Organization) के बिज़नेस की स्थिति को ही नही दर्शाता बल्कि यह भी दर्शाता है कि बिज़नेस की स्थिति सही तथा खराब क्यों हो रही है।

एमआईएस के उपयोग और लाभ इस प्रकार है-

1. रिकॉर्ड मेनटेंन- (Record maintenance) एम आई एस सिस्टम की मदद से आप किसी भी संस्था या कंपनी के डेटा को आसानी से रिकॉर्ड करके रखा जा सकता है।

2. लेन देन- Transaction एमआईएस सिस्टम के माध्यम से आप बड़ी आसानी से डेटा का लेन- देन कर सकते हैं और उसके रिकॉर्ड को भी मेनटेन कर सकते हैं।

3. निर्णय लेना- Decision Making एमआईएस सिस्टम की सहायता से आप सभी डेटा को एक जगह पर रख सकते हैं। इससे डेटा को आसानी से समझा और जांचा जा सकता है इससे किसी भी कंपनी के लिए निर्णय लेना आसान हो जाता है।

4. संचार- Communication एमआईएस सिस्टम उपयोगकर्ता को आसानी से एसएमएस (SMS) और ईमेल (E-mail) करने की सुविधा प्रदान करता है। इसके माध्यम से किसी भी कंपनी के लिए अपने क्लाइंट (client) के साथ बातचीत करना आसान हो जाता है।

यहाँ पढ़ें : अन्य सभी full form

What does MIS stand for? एमआईएस का अन्य मतलब क्या होता है

एम आई एस एक प्रकार का पोस्ट ऑफिस मे अकाउंट भी होता है। जिसे खुलवा कर आप घर बैठे अपनी आमदनी कर सकते हैं। जैसे यदि आपके पास दस लाख रूपये हैं और आप उन पैसों को पोस्ट ऑफिस मे एमआईएस अकाउंट मे डलवा देते हैं तो आपको हर महीने 6500 से अधिक रूपये मिलते हैं जो आपकी आमदनी कहलाती है।

एमआईएस के उद्देश्य

एमआईएस का उद्देश्य है संगठन के मैनेजमेंट और प्रतियोगी लाभ के लिए सूचना प्रणाली की क्षमता को कैप्चर करके इंटर प्राइज़ की संगठनात्मक संरचना और गतिशीलता को लागू करना है। इसके बहुत से उद्देश्य हैं जैसे-

डाटा प्रोसेसिंग- (Data processing) यह रिकॉर्ड किए गए डेटा को यह रणनीतिक, सामरिक और परिचालन स्तर पर कार्यो की योजना, आयोजन, निर्देशन और नियंत्रण के लिए आवश्यक जानकारी के संसाधित किया जाता है।

इंफोरमेशन स्टोरेज– (Information storage) डेटा को भविष्य मे प्रयोग के लिए संग्रहित करने मे मदद करता है।

इंफोरमेशन रिट्रिवल- (Information retrieval) विभिन्न उपयोगकर्ताओ द्वारा इस्तेमाल करने पर सिस्टम के स्टोरेज से जानकारी को पुन: प्राप्त करने मे सक्षम होना चाहिए।

डेटा कैप्चर- (data capture) कॉंटेक्चुल डेटा या ऑप्रेशनल जानकारी पर कैप्चर करने के लिए संगठन के विभिन्न आंतरिक और बाहरी स्रोतों से निर्णय लेने मे योगदान करता है।

निष्कर्ष- इस लेख मे हमने आपको एमआईएस का फुल फॉर्म क्या होता है? What is the full form of MIS in Hindi? इसका फुल फॉर्म होता है Management Information System इसके अलावा इसके लाभ, इसका क्या मतलब  होता है। संबंधित जानकारी दी है अगर आपका कोई सुझाव है तो आप हमे हमारे नीचे दिए गए कंमेट बॉक्स मे कमेंट कर सकते हैं।

Reference-
2020, full form of MIS, wikipedia

Written by Amit Singh

I am a technology enthusiast and write about everything technical. However, I am a SAN storage specialist with 15 years of experience in this field. I am also co-founder of Hindiswaraj and contribute actively on this blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

full form of NABARD

Full form of NABARD – In Hindi नाबार्ड का फुल फॉर्म क्या होता है?

full form of CC

Full form of CC – सीसी का फुल फॉर्म क्या होता है? सी सी क्या होता है?