in

full form of FOMO in Hindi – FOMO का फुल फॉर्म क्या होता है?

full form of FOMO एक बेहद ही प्रचलित शब्द FOMO जो आज अधिकतर युवाओं में Social Media के कारण अधिक बढ़ गया है। 
आइए जानते है कि FOMO का full form क्या होता है? FOMO का क्या अर्थ होता है? FOMO किस लिए प्रयोग किया जाता है? 

full form of FOMO – FOMO क्या होता है? 

full form of FOMOFear of Missing Out
full form of FOMO in Hindiगुम हो जाने का भय 
वर्गमनोविज्ञान 
full form of FOMO

वर्ग: मनोविज्ञान 

मतलब/अर्थ : गुम हो जाने का भय 

Meaning: Fear of Missing Out

FOMO एक मनोवैज्ञानिक शब्द है | यह एक प्रकार का मानसिक जुनून, विवशता या चिंता है |

FOMO शब्द मूलतः कहा से आया? 

मैकगिनिस ने FOMO शब्द गढ़ा और 2004 में हार्वर्ड बिजनेस स्कूल की पत्रिका ‘द हरबस’ (The Harbus) में इसे लोकप्रिय बनाया। इस लेख का शीर्षक  McGinnis’ Two FOs : सोशल थ्योरी एट एचबीएस (Social Theory at HBS) था, और एक अन्य संबंधित स्थिति, फियर ऑफ़ ए बेटर ऑप्शन (Fear of a Better Option) (FoBO) और स्कूल के सामाजिक जीवन में उनकी भूमिका का भी उल्लेख किया गया था।

FOMO usage in a sentence in Hindi | FOMO शब्द का वाक्यों में प्रयोग हिन्दी में 

full form of FOMO
  • मैं FOMO अनुभव कर रहा हूँ |
  • मुझे FOMO है |
  • मैं FOMO से पीड़ित हूँ |
  • आजकल अधिकतर युवा FOMO अनुभव कर रहे है क्योंकि उन्होंने Bitcoin में निवेश नहीं किया और अब वे अन्य crypto currency ख़रीद रहे है |

    FOMO को विस्तार में समझे 

छूटने का डर (FOMO) एक सामाजिक चिंता है | यह इस विश्वास से उपजी है कि जहाँ दूसरे आनंद मना रहे होंगे और आप वहाँ अनुपस्थित है | चिंता का अनुभव करने वाला व्यक्ति यानी आप उस आनंद में मौजूद नहीं है। यह दूसरे क्या कर रहे हैं के साथ लगातार जुड़े रहने की इच्छा की विशेषता है। 

FOMO को खेद के डर के रूप में भी परिभाषित किया जाता है, जिसके कारण यह चिंता हो सकती है कि कोई व्यक्ति सामाजिक संपर्क, एक उपन्यास अनुभव या एक लाभदायक निवेश का अवसर चूक सकता है। यह डर बना रहता है कि भाग न लेने का निर्णय गलत विकल्प है।

इस शब्द का मतलब होता है अनुवांशिक डर जो किसी अवसर के खो जाने से हो सकता है |

उदाहरण के तोर पर आपको amazon या किसी अन्य बड़ी कंपनी में निवेश करना था जो आपने किसी कारणवश नहीं किया | पर आज वे कंपनियां मुनाफ़ा कमा रही है | आप आज इसका पश्चाताप करते है | उस अवसर को खो देने का पश्चाताप | पर अब आप किसी भी अवसर को खोने से डरते रहते है | इसे ही FOMO (Fear of missing out) या किसी भी चीज/अवसर/व्यक्ती आदि खो जाने का भय कहते हैं |

अब अगली बार आप किसी गलत कंपनी में निवेश करते हैं और यदि वे कंपनी डूब जाती है तो इस गलत फैसला लेने का कारण FOMO कहलायेगा | FOMO के कारण आपके गलत निर्णय लेने की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि इसमे आपकी जल्दबाजी, बैचैनी और भूतकाल के अवसरों को छोड़ने का डर व चिंता शामिल होती है | आपका निर्णय सूझबूझ व शांत मन से नहीं लिया गया होता | 

FOMO Side-Effects in Hindi | FOMO के दुष्प्रभाव हिन्दी में 

full form of FOMO
full form of FOMO

हर व्यक्ति जीवन में किसी भी अवसर के खो जाने का अफ़सोस करता है जो की एक आम बात है | पर जब इसका प्रभाव अधिक हो खासतौर पर बाहरी प्रभावों के कारण,आप किसी विशेष अवसर को छोड़ना ना चाहते तो ये आपके रोजमर्रा के जीवन पर दुष्प्रभाव डालता है और आप एक गलत आदत का शिकार हो जाते है |

FOMO सामाजिक प्रभाव के कारण बेचैनी करता है | आप हमेशा भीड़ का हिस्सा बने रहने के लिए आतुर रहते है | आप लगातार स्वयं की तुलना दूसरों से करते है | यह आदत जुनून का रूप कब ले लेती है आपको पता ही नहीं चलता |

आप लगातार social media पर लोगों को प्रचलन का हिस्सा बनते देखते हैं | खुश चेहरे और अमीरी के दिखावे के प्रभाव में आप भी उसी धारा में बहना चाहते है | प्रचलन या सामाजिक दिखावे की धारा में ना रहना आपके भीतर असुरक्षा की भावना को जगाता है और यह दिन प्रतिदिन बढ़ती जाती है | आप चाह कर भी अवसरों को ना छोड़ने की भावना से पार नहीं पा पाते | इसका परिणाम होता है – FOMO. 

FOMO Side Effects in everyday life | आम जीवन पर FOMO के दुष्प्रभाव  

आम जीवन दिनचर्या में बहुत अधिक FOMO आपके मानसिक स्वास्थ्य पर नकारात्मक प्रभाव डालता है। जो लोग साथियों, पड़ोसियों, सहकर्मियों या अन्य लोगों के साथ बहुत चिंतित हैं, उनमें चिंता, कम आत्मसम्मान और अकेलेपन की भावना हो सकती है।

FOMO Full Form in Hindi | FOMO side in Social Media in Hindi | FOMO के दुष्प्रभाव Social Media पर हिन्दी में 

मूल अध्ययन के शोधकर्ताओं के अनुसार, सोशल मीडिया FOMO (या “छूट जाने का डर”) की भावना पैदा करता है | अवसाद और अकेलेपन की भावनाओं को बढ़ा सकता है।

यदि आप ज्यादातर लोगों के सोशल मीडिया पेज से गुजरते हैं, तो आपको लगता है कि वे अपना सर्वश्रेष्ठ जीवन जी रहे हैं। और सोशल मीडिया पोस्ट अन्य लोगों में FOMO (“छूट जाने का डर”) की भावना पैदा करता है | वे अपने जीवन में इस कमी को महसूस करते हैं, वे निराश होते है क्योंकि वे उन सभी सकारात्मक चीजों की तुलना नहीं कर सकते हैं, जो वे अन्य लोगों को सोशल मीडिया पर करते हुए देखते हैं।

Social Media पर तुलना हमारी खुशी और कल्याण में रुकावटों में से एक है, और यह एक नशे की तरह काम करता है |full form of FOMO in Hindi | FOMO Side Effects in Stock Market | FOMO के दुष्प्रभाव Stock Market में हिंदी में 

ट्रेडिंग या स्टॉक मार्केट में FOMO बाजारों में एक बड़े अवसर पर छूटने का डर है और एक आम मुद्दा है जो कई व्यापारी अपने करियर के दौरान अनुभव करेंगे। FOMO सभी को प्रभावित कर सकता है, नए व्यापारियों से लेकर अनुभवी व्यापारियों तक ।

सोशल मीडिया के आधुनिक युग में, जो हमें दूसरों के जीवन की अभूतपूर्व आनंद की झूठी कल्पना देता है, FOMO एक सामान्य घटना है। यह इस भावना से उपजा है कि अन्य व्यापारी अधिक सफल हैं, और यह अत्यधिक उम्मीदों, दीर्घकालिक नज़रिए की कमी, अति आत्मविश्वास / बहुत कम आत्मविश्वास और प्रतीक्षा करने की अनिच्छा पैदा कर सकता है।

भावनाएँ अक्सर FOMO के पीछे एक प्रमुख प्रेरणा शक्ति होती हैं। यदि अनियंत्रित छोड़ दिया जाता है, तो वे व्यापारियों को व्यापारिक योजनाओं की उपेक्षा करने और जोखिम लेने के सुरक्षा स्तरों से अधिक हो सकते हैं।

यहाँ पढ़ें : अन्य सभी full form

FOMO को बढ़ाने वाली आम भावनाओं में शामिल हैं:

  • लालच
  • डर
  • उत्साह
  • ईर्ष्या द्वेष
  • अधीरता
  • चिंता

How to Deal with FOMO – कैसे छुटकारा या निजात पाए FOMO से

आपको सर्वप्रथम स्वयं से प्रश्न करने होंगे की यह भावना आपके भीतर से क्यों आ रही है? क्यों आपने अधिक मान्यता बाहरी प्रभावों को दे रखी है? और इसके आपके जीवन में क्या क्या दुष्परिणाम देखने को मिल रहे है? 

  • जाने FOMO कहा से आ रहा है 
  • ध्यान रखे जो जैसा दिखता है वैसा होता नहीं 
  • स्वयं पर काम करे और निर्माण करे खुद के जीवन का 
  • अपने कामों की स्वयं जिम्मेदारी उठाना सीखिए 
  • जो आपके पास है उसके प्रति कृतज्ञता प्रकट कीजिए 
  • अपनी खुशियो को स्वयम में खोजे | अपने सुख के लिए बाहरी प्रभावों और निर्भरता से बचे |
  • FOMO अनियंत्रित होने पर किसी मनोवैज्ञानिक की सलाह अवश्य ले |

आपने जाना FOMO की full form हिन्दी में, FOMO क्या होता है? FOMO के दुष्प्रभाव क्या होते है? आम जीवन में, social media पर या stock market में FOMO के क्या-क्या दुष्परिणाम हो सकते है? और FOMO से पार पाने के Tips |

आशा है आपको FOMO full form in Hindi के संबंध में यह जानकारी अच्छी लगी होगी | आपका प्रेम और सराहना हमे आप तक और महत्वपूर्ण जानकारियां लाने के लिए प्रेरित करता रहेगा |

Reference-
7 November 2020, wikipedia, full form of FOMO

Written by Amit Singh

I am a technology enthusiast and write about everything technical. However, I am a SAN storage specialist with 15 years of experience in this field. I am also co-founder of Hindiswaraj and contribute actively on this blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Full form of BAE

Full form of BAE in Hindi, what is BAE – बीएई का फुल फॉर्म क्या होता है?

Full form of MRP

What is the full form of MRP in Hindi? – MRP का फुल फॉर्म क्या होता है?