in

Full Form of TBC – टी.बी.सी.का फुल फॉर्म क्या होता है

Full Form of TBC टू बी कंटिन्यू और इसी की तरह इस्तेमाल होने वाले कई टर्म्स, ज्यादातर किसी कार्यक्रम के सन्दर्भ में इस्तेमाल होता है। मान लीजिये, आप कोई शो ब्रॉडकास्ट कर रहे हैं और किन्ही कारणवश पूरा शो प्रसारित नहीं हो पाया है। तब हम नीचे टू बी कंटिन्यूड लिख कर उसको आपके लिए ताल सकते हैं। टू बी कंटिन्यूड के साथ साथ हम कई ऐसे कई और टर्म्स करते हैं। निम्न लिखित इसके कुछ उदाहरण हैं , टू बी अनाउंस्ड, टू बी कनफर्म्ड आदि। 

Full Form of TBC – टी.बी.सी.का फुल फॉर्म क्या होता है

Full Form of TBCTo Be Continue
Full Form of TBCटू बी कंटिन्यूड
Full Form of TBC

 ” टू बी कंटिन्यूड ” क्या है ?

Full Form of TBC टी.बी.सी. फुल फॉर्म – टू बी कंटिन्यूड। टू बी कंटिन्यूड को समझने के लिए कंटिन्यू को समझना पड़ेगा। कंटिन्यू का डिक्शनरी में मतलब है, जारी रखना या बनाएं रखना। किसी भी चीज़ को जारी रखने या बनाये रखने का इंग्लिश मतलब कंटिन्यू होता है और ये क्रिया यानी वर्ब की सूची में आती है। जब भी आप टू बी कंटिन्यूड का हिंदी अनुवाद करने जाते हैं तो आपको इसका मतलब मिलता है, ” जारी है ” । 

हिंदी भाषा के अनुसार क्रिया के दो भेद होते हैं, सकर्मक क्रिया और अकर्मक क्रिया।  वाक्य में ऐसी क्रिया जिन्हें अर्थ को स्पष्ट करने के लिए कर्म की आवश्यकता होती है, उसे सकर्मक क्रिया कहते हैं, और वाक्य में ऐसी क्रिया जिसे अर्थ को स्पष्ट करने के लिए कर्म की आवश्यकता नही पड़ती, उसे अकर्मक क्रिया कहते है।

अगर बात की जाए की  ” टू बी कंटिन्यूड ” में कौनसी क्रिया है तो इसका जवाब होगा, ” अकर्मक क्रिया “।  टू बी कंटिन्यूड यानी ” जारी है ” में कर्ता की स्पष्ट जानकारी नहीं दी गयी है,  इसी कारणवश इसको अकर्मक क्रिया में शामिल किया जाएगा।  

” टू बी कंटिन्यूड ” और क्रिया

यह एक वाक्य नहीं है। यह एक वाक्य का एक टुकड़ा है। (यह कहानी है) जारी रखने के लिए ~ यह कहानी जारी रहेगी। उपयोग की जाने वाला स्ट्रक्चर   पैसिव इंफीनीटि है। अन्य पैसिव इंफीनीटिव : टू बी सीन, टू बी नोन, टू बी सेड, टू बी टेकन, टू बी रिवाइज्ड, टू बी डेलीवर, टू बी रीड आप शब्दों का उपयोग तब करते हैं जब आपको उनकी आवश्यकता होती है, अपनी भाषा में भी। मैंने पहले ही आपको ऊपर उदाहरण दिए हैं।

” टू बी कंटिन्यूड ” का उपयोग 

(टेलीविज़न) एक एपिसोड के अंत में संकेत मिलता है कि कहानी अगले एपिसोड में जारी है।

(बोलचाल) यह इंगित करने के लिए उपयोग किया जाता है कि चर्चा के तहत एक कहानी निष्कर्ष नहीं निकली है, या तो कथन में या वास्तविकता में।

टू बी कंटिन्यूड और किताबों में इसका उपयोग  

Full Form of TBC

टी.बी.सी  यानी टू बी कंटिन्यूड, इसका इस्तेमाल आपको आमतौर पर कहीं किताबों में भी मिलता है।  जब भी आप किताब पढ़ रहे होते है और ऐसी किताब पढ़ते हैं जो कई भागों में विभाजित है, तो आम तौर पर पहले भाग के अंत में आपको कभी कभार “…. to be continued ” या “….जारी है ” लिखा होता है। जिसका सीधा मतलब होता है कि इस भाग के बाद भी एक भाग आना है जो इस कहानी को आगे बढ़ाएगा। आम तौर पर किताब का समापन जिस एक मुहावरे या पंक्ति से होता है , नए भाग की शुरुवीयत उसी ही पंक्ति से होती है। 

जिन किताबों के भाग नहीं होते और उनका समापन इसी अंक में होता है तो उन किताबों के अंत में एक पूर्ण विराम बिंदु लगी होती है। जो ये दर्शा रही होती है कि ये कहानी या ये अंक यहीं समाप्त हो गया है। इससे जो भी पाठक होता है, उसे पढ़ने में और ये समझने में आसानी होती है की कहानी यहां आकर समाप्त हो गयी है। या ये पाठ यहां आजकर समाप्त होता है।

जबकि इसके बिलकुल विपरीत जब भी कभी कहानी को बढ़ाया जाता है तो पुराने अंक के अंत में आपको  “…. to be continued ” या “….जारी है ” लिखा मिल सकता है।  इससे आपको ये भी पता चलेगा कि इस किताब का एक और या कई और अंक मौजूद हैं। 

कभी कभार आप जब भी कहानियों की किताबें पढ़ते हैं या कविताओं की किताबें पढ़ते हैं तो वहाँ एक किताब में एक से अधिक कहानियां या कविताएँ होती हैं। उस प्रकार की किताबों में आपको Full Form of TBC ” टी.बी.सी. फुल फॉर्म – टू बी कंटिन्यूड ( to be continued ) ” या ” जारी है ” नहीं मिलता है। क्योंकि उन किताबों का एक निश्चित अंक या इकाई होती है और उसकी कहानियां या कविताएँ किसी दूसरी किताबों तक नहीं खींची जाती है।

लेकिन एक किताब के कई भाग और सीरीज हो सकती है, लेकिन उसमें  “…. to be continued ” या “….जारी है ”  इस्तेमाल नहीं होता है। 

टू बी कंटिन्यूड और टेलीविज़न सीरियल में इसका उपयोग

Full Form of TBC
Full Form of TBC

आमतौर पर टी.वी. या वेब पर जो सीरियल उपलब्ध होते हैं, चाहें वो भारतीय हों या विदेशी, आपको हर जगह  “…. to be continued ” या “….जारी है ”  का इस्तेमाल मिल जाता है। टेलीविज़न सीरियल और वेब सीरियल की कहानी एक एपिसोड तक ही सीमित नहीं होती है। इसमें कई एपिसोड या कभी – कभी तो कई सीजन तक कहानी को दिखाया जाता है और ये सिलसिला आपको पूरी दुनिया की सीरीज में दिख जाता है। तो जब भी आप किसी टेलीविज़न या वेब सीरीज का एपिसोड ख़त्म करते हैं तो वहाँ आपको  “…. to be continued ” या “….जारी है ”  देखने को मिल जाता है। 

लेकिन ये चीज़ सिर्फ एपिसोड्स तक ही सीमित नहीं हैं। वेब या टेलीविज़न के जब कई सीजन बनाये जाते हैं, तो हर सीजन के अंत में आपको “…. to be continued ” या “….जारी है ” देखने को मिल सकता है लेकिन ये बिलकुल भी जरूरी नहीं होता की आपको ये देखने को मिलेगा ही। कई बार आपको देखने को मिलेगा की किसी भी टी.वी. या वेब  सीरीज के किसी सीजन के अंत में आपको   “…. to be continued ” या “….जारी है ”  देखने को नहीं मिलता।

इसका कारण ये है की कई बार किसी  टी.वी. या वेब सीरीज के हर सीजन की कहानी अलग होती है और उसका कोई भी कनेक्शन पुरानी कहानी या पुराने सीजन से नहीं होता है। 

आपने ये देखा होगा की कई बार पुराने शो को दुबारा से बनाया जाता है। और कभी  नयी कहानी भी जोड़ी जात्ती है ताकि पहले सीजन खत्म हुआ है उसको  तरीके से आगे बढ़ाया जाए। 

वहाँ आपको Full Form of TBC  “…. to be continued ” या “….जारी है ” शायद देखने को ना मिले। क्योंकि इसके प्रोडक्शन में काफी लम्बा अंतराल है और कभी कभी तो शायद प्रोडक्शन हाउस और डायरेक्टर यहां तक की कास्ट भी अलग हो सकती है। और ये भी हो सकता है की पुरानी कहानी जहां खत्म हुई है, इसकी कहानी वहाँ से आगे बढे ,इस मामले में भी Full Form of TBC  “…. to be continued ” या “….जारी है ” का होना मुश्किल है।

क्योंकि जब आखिरी सीजन ख़त्म हुआ तरह तब ऐसा कोई इरादा नहीं था की इसकी कहानी को आगे बढ़ाया जाएगा लेकिन अब जब इसकी कहानी को आगे बढाया जा रहा है तो यही बिलकुल नयी चीज़ है और इसका जुड़ाव पुरानी कहानी से नहीं है।    

टू बी कंटिन्यूड और फिल्मों में इसका उपयोग

आम तौर पर जब भी भारतीय इमा की बात आती है तो हम कल्पना करते हैं भव्य सेट्स की, रंग बिरंगी तस्वीरों को जो आपको कैमरा के ज़रिये दिखेंगी और बहुत ही उम्दा और आला दर्जे की कहानियाँ । लेकिन इसमें जो सबसे प्रमुख चीज़ आती है वो है इसकी कहानियों को दिखाने का तरीका। आम तौर पर जिन  कहानियों पर भारत में फिल्में बनती हैं , उनका आम तौर पर सिर्फ एक ही भाग होता है, और इसी एक भाग में वो सारी कहानी दिखाने की कोशिश करती हैं। इसी लिए इन फिल्मों में आपको आम तौर पर Full Form of TBC  “…. to be continued ” या “….जारी है ” देखने को नहीं मिलता है। 

लेकिन ऐसा नहीं है की सारी फिल्में एक जैसी ही होती हैं , भारत में भी ऐसी फिल्में अब बनने लगी हैं जिसके भाग होता हैं और जिसके अंत में आपको “…. to be continued ” या “….जारी है ” देखने को मिल जाता है। इसका जीता जागता उदाहरण है साल 2011 में आयी फिल्म ” गैंग्स ऑफ वासेपुर ” जिसका निर्देशन अनुराग कश्यप ने किया था, उसके भी दो भाग हैं। और वहाँ आपको “…. to be continued ” या “….जारी है ” देखने  को मिल जाता है।

उस फिल्म के पहले भाग में आपको जो कहानी मिलती है, उस कहानी को दूसरे भाग से आगे बढ़ाया गया है। इसी तरह सत्यजीत रे द्वारा बनायी गयी ” अपु ट्रिओलॉजी ” में  आपको इस चीज़ का इस्तेमाल दिख सकता है। हांलाकि मिस्टर रे द्वारा बनाई गयी फिल्मों के अंत में आपको Full Form of TBC “…. to be continued ” या “….जारी है ” नहीं मिलता।  लेकिन इन फिल्मों का  कहने का तरीका बिलकुल ऐसा ही है। 

यहाँ पढ़ें : अन्य सभी full form

टू बी कंटिन्यूड और अखबारों में इसका उपयोग

भारत में सौ से भी ज्यादा तरह के अखबार प्रकाशित होते हैं। क्योंकि भारत में सोलह सौ से ज्यादा भाषाएं उपलब्ध हैं , और इनमें से हर एक प्रमुख भाषाओं में अखबार प्रकाशित होता है। अखबार के कई प्रमुख अंग होते हैं जो सिर्फ पाठकों की सहूलियत के लिए बनाये जाते हैं। आम तौर पर अखबार का पहला पन्ना सारी प्रमुख खबरों से भरा होता है। ये सारी खबरें राजनीती, देश, विदेश, स्पोर्ट्स और अन्य प्रकार की होती हैं। 

इस पन्ने पर जो भी खबरें लिखी होती हैं, उनका पूरा ब्यौरा आपको दूसरे पन्नो पर मिलता है। और इस पन्ने एक छोटे से डिस्क्रिप्शन के साथ आपको Full Form of TBC “…. to be continued ” या “….जारी है ” लिखा मिलता है। और इसके साथ लिखा मिलता है, एक पेज नंबर जहां पर इस पेज पर पूरा ब्यौरा दिया होता है। 

टी.बी.सी. फुल फॉर्म Full Form of TBC – टू बी कंटिन्यूड के कुछ उदाहरण आपको ऊपर दिये गए हैं। इनके अलावा कई और भी उदाहरण हैं जो आपको मिल सकते हैं लेकिन सबसे ज्यादा सही तरीके से इस्तेमाल किये जाने वाले उदाहरणों का वर्णन आपको ऊपर दिया गया है।     

Reference-
2020, full form of TBC, wikipedia

Written by Amit Singh

I am a technology enthusiast and write about everything technical. However, I am a SAN storage specialist with 15 years of experience in this field. I am also co-founder of Hindiswaraj and contribute actively on this blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Full Form Of MTNL

Full Form Of MTNL – एम.टी.एन.एल. का फुल फॉर्म क्या होता है

Full Form Of Love

Full Form Of Love – लव की फुल फॉर्म