in

upsc full form in Hindi | what is upsc, UPSC के कार्य और सम्बंधित जानकारी

Table Of Contents
show

upsc full form in Hindi – यूपीएससी का full form Union Public Service Commission होता है, तथा हिंदी में इसका फुल फॉर्म होता है संघ लोक सेवा आयोग दोस्तों इस लेख में upsc से संबंधित सभी जानकारी दी गई है जैसे upsc क्या है, इसका फुल फॉर्म, upsc के कार्य, आप upsc में कैसे भर्ती हो सकते हैं, परिक्षा पैटर्न आदि।

upsc full form in Hindi – यूपीएससी का फुल फॉर्म क्या है

upsc full formUnion Public Service Commission
upsc full form in Hindiसंघ लोक सेवा आयोग
Formed1 October 1926
Preceding agenciesPublic Service Commission
JurisdictionRepublic of India
HeadquartersDholpur House, Shahjahan Road, New Delhi
Group of posts underUPSC Group A and B posts
Parent departmentGovernment of India
Websiteupsc.gov.in
upsc full form in Hindi

यहाँ पढ़ें : PPT Full Form in Hindi

What is upsc, यूपीएससी क्या है, upsc स्थापना

संघ लोक सेवा आयोग, जिसे आमतौर पर यूपीएससी के रूप में जाना जाता है। इसकी स्थापना 1 अक्टूबर, 1926 को हुई थी। यह धौलपुर हाउस, शाहजहाँ रोड, नई दिल्ली में स्थित है। लोक सेवकों के लिए भारत की प्रमुख केंद्रीय भर्ती एजेंसी है। यह अखिल भारतीय सेवाओं के लिए नियुक्तियों, परीक्षाओं और केंद्र सरकार के नागरिक सेवा संवर्ग और रक्षा सेवा संवर्ग के तहत ग्रुप ए group A और ग्रुप बी group B पदों के लिए जिम्मेदार होती है।

What is UPSC exam with full information in Hindi

upsc full form in Hindi

यहाँ पढ़ें : FIR Full Form in Hindi

Functions of UPSC यूपीएससी के कार्य

भारत के संविधान के अनुच्छेद 320 के तहत सिविल सेवाओं तथा पदों के लिए भर्ती संबंधी सभी जिम्मेदारियां आयोग के पास है इसके साथ – साथ आयोग के कार्य इस प्रकार हैं:

  • संघ की सेवाओं में नियुक्ति के लिए परीक्षाएं आयोजित करना।
  • साक्षात्कार के माध्यम से चयन द्वारा सीधी भर्ती।
  • पदोन्नति / प्रतिनियुक्ति / अवशोषण पर अधिकारियों की नियुक्ति।
  • सरकार के तहत विभिन्न सेवाओं और पदों के लिए भर्ती नियमों का निर्धारण और संशोधन।
  • विभिन्न सिविल सेवा से संबंधित अनुशासनात्मक मामले।
  • भारत के राष्ट्रपति द्वारा आयोग को संदर्भित किसी भी मामले पर सरकार को सलाह देना।

यहाँ पढ़ें : Full form of GMT
यहाँ पढ़ें : Full form of DCA in hindi

UPSC Recruitmentयूपीएससी भर्ती प्रक्रिया

UPSC सिविल सेवा परीक्षा में 3 चरण होते हैं, जिसके माध्यम से प्रशासनिक विभागों के पदों के लिए उम्मीदवारों की नियुक्ति की जाती है

  • प्रारंभिक परीक्षा (Prelims)
  • मुख्य परीक्षा (Mains)
  • साक्षात्कार (personality tests)
Advertisements
Online Application for Lateral Recruitment
Online Recruitment Application (ORA)
Status of Recruitment Cases (Advertisement-wise)
Forms for Certificates
Recruitment Tests
Recruitment Requisition
Recruitment cases kept on hold on account of Pending Litigations
Representation on Question Papers

UPSC Prelims Exam patternप्रारंभिक परीक्षा

इसमें 200 अंकों के 2 अनिवार्य पेपर होते हैं, जिन्हें 2 घंटे की अवधि में हल करना होता है। प्रीलिम्स में प्राप्त अंकों को अंतिम मेरिट सूची में नहीं गिना जाता है, प्रीलिम्स परीक्षा में नेगेटिव मार्किंग भी होती है. प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1/3 अंक प्राप्त अंको से कम कर लिए जायेंगे। पेपर को उत्तीर्ण करने के लिए 33% अंक प्राप्त करने होते हैं।

PaperTypeNo. of questionsMarksDuration
General Studies I ObjectiveObjective1002002 hours
General Studies II (CSAT)Objective802002 hours

UPSC Exam pattern for Mains – मुख्य परीक्षा

जो उम्मीदवार प्रीलिम्स परीक्षा उत्तीर्ण करते हैं, वे मेंस परीक्षा के लिए उपस्थित हो सकते हैं। UPSC Mains परीक्षा में 9 पेपर होते हैं, मेंस परीक्षा के सभी पेपर वर्णनात्मक प्रकार के होते हैं, पेपर A और B क्वालिफाइंग प्रकृति के होते हैं, उम्मीदवारों को अपने पेपर I  से पेपर VII तक प्रत्येक में कम से कम 25% स्कोर करना चाहिए।

पेपरविषयअंक
पेपर-A
Qualifying
उम्मीदवार द्वारा चुने जाने वाले भारतीय भाषा में से एक300
पेपर-B
Qualifying
अंग्रेजी300
पेपर-Iनिबंध250
पेपर-II
(सामान्य अध्ययन-I) भारतीय विरासत और संस्कृति, विश्व
और समाज का इतिहास और भूगोल
250
पेपर-III(सामान्य अध्ययन-II) शासन, संविधान, राजनीति, सामाजिक
न्याय और अंतर्राष्ट्रीय संबंध
250
पेपर-IV(सामान्य अध्ययन -III) प्रौद्योगिकी, आर्थिक विकास,
जैव-विविधता, पर्यावरण, सुरक्षा और आपदा प्रबंधन
250
पेपर-V
(सामान्य अध्ययन -IV) नैतिकता, अखंडता और एप्टीट्युड
– 250 अंक
250
पेपर-VIवैकल्पिक विषय का पेपर 1250
पेपर-VIIवैकल्पिक विषय का पेपर 2250
लिखित परिक्षा के
कुल अंक
1750
साक्षात्कार275
कुल अंक2025

UPSC Interviewसाक्षात्कार

साक्षात्कार UPSC परीक्षा का अंतिम चरण है। साक्षात्कारकर्ता जनरल इंट्रेस्ट के प्रश्न पूछकर छात्र के मानसिक और सामाजिक ट्रेट्स की जानकारी प्राप्त करने की कोशिश करता है। साक्षात्कार चरण के लिए आवंटित अधिकतम अंक 275 हैं, मेरिट लिस्ट साक्षात्कार / व्यक्तित्व परीक्षण और मेन्स परीक्षा के अधर पर तैयार की जाती है। इस प्रकार मेरिट सूची के लिए कुल अंक 2025 होते हैं।
upsc इंटरव्यू शेड्यूल के बारे में जानने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें।

Number of attempts – प्रयासों की संख्या

परीक्षा के लिए उम्मीदवार जितनी बार उपस्थित हो सकते हैं,वो इस प्रकार हैं।

  • सामान्य श्रेणी के उम्मीदवार – 6
  • ओबीसी श्रेणी के उम्मीदवार – 9
  • एससी / एसटी उम्मीदवार – 37 वर्ष की आयु तक असीमित प्रयास।

प्रारंभिक परीक्षा में एक पेपर का प्रयास करने की अपील को एक प्रयास के रूप में गिना जाता है, जिसमें उम्मीदवारी की अयोग्यता / रद्द करना शामिल है। हालांकि, परीक्षा में बैठने के लिए आवेदन करना लेकिन उपस्थित होने में विफल रहने को प्रयास के रूप में नहीं गिना जाता है।

यहाँ पढ़ें : full form of SOS in hindi
यहाँ पढ़ें : IT full form in Hindi

Explained | कैसे होता है UPSC एग्जाम, किस तरह तैयार करते हैं रिजल्ट | UPSC Exam 2

upsc full form in Hindi

यहाँ पढ़ें : mis full form in hindi

Examination

सिविल सेवा मुख्य लिखित परीक्षा में नौ पेपर होते हैं, दो योग्यता और प्रकृति में सात रैंकिंग के लिए। सवालों की सीमा सिर्फ एक निशान से साठ अंक, बीस शब्द से 600 शब्दों के उत्तर में भिन्न हो सकती है। प्रत्येक पेपर 3 घंटे की अवधि का होता है। हर पेपर उत्तीर्ण करने वाले उम्मीदवारों को अंकों के अनुसार रैंक दिया जाता है और चयनित उम्मीदवारों को आयोग के विवेक पर साक्षात्कार या व्यक्तित्व परीक्षण के लिए बुलाया जाता है।
एक्ज़ाम नोटिफिकेशन के बारे में जानने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें।

Examinations conducted by UPSC – यूपीएससी द्वारा आयोजित कराई जाने वाली परीक्षाएँ

upsc full form in Hindi
upsc full form in Hindi

Upsc कई बड़े-बड़े राष्ट्र स्तर तक के exams करवाती है। जिनमें कुछ exams के नाम निम्नलिखित है-

  • सिविल सेवा परीक्षा (Civil Service Examination)
  • भारतीय वन सेवा परीक्षा (Indian Forest Service Examination)
  • संयुक्त रक्षा सेवा परीक्षा (Combined Defense Services Examination)
  • नौसेना अकादमी परीक्षा (Naval Academy Examination)
  • संयुक्त चिकित्सा सेवा परीक्षा (Combined Medical Services Examination)
  • विशेष कक्षा प्रशिक्षण शिक्षु (Special Class Railway Apprentice)
  • इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा (Engineering Services Examination)
  • राष्ट्रीय रक्षा अकादमी परीक्षा (National Defense Academy Examination)
  • संयुक्त भू-विज्ञानी और भूवैज्ञानिक परीक्षा (Combined Geoscientist and Geologist Examination)
  • भारतीय आर्थिक सेवा / भारतीय सांख्यिकी सेवा परीक्षा(Indian Economic Service/Indian Statistical Service Examination)
  • केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बल (सहायक कमांडेंट) परीक्षा (Central Armed Police Forces (Assistant Commandant) Examination)

यहाँ पढ़ें : gail full form in hindi
यहाँ पढ़ें : nsso full form in hindi

यूपीएससी परीक्षाओं में शामिल होने के लिए न्यूनतम योग्यता – qualification

यूपीएससी की परिक्षा मे आवेदन करने के लिए संगठन द्वारा कुछ योग्यताएं निर्धारित की गई हैं, विशेष परीक्षाओं के लिए आवश्यक न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता अलग – अलग होती हैं। इसलिए अगर आप आवेदन करना चाहते हैं तो आपको इनके बारे में जानकारी होना आवश्यक है।

परीक्षा न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता
National Defense Academy and Naval Academy Examination (NDA)12th pass
Central Armed Police Forces (ACs) ExaminationBachelor’s degree
Combined Defence Services Examination (CDS)Bachelor’s degree
Indian Statistical Service Examination (ISS)Bachelor’s Degree with Statistics/Applied Statistics/Mathematical Statistics
Combined Medical Services ExaminationMBBS
Indian Economic Service Examination (IES)Post-Graduate Degree in Economics/Applied Economics/Business Economics etc
Indian Engineering Services ExaminationDegree in Engineering
Indian Forest Service Examination (IFS)Bachelor’s degree in any one of the mentioned subjects
Combined Geo-Scientist and Geologist ExaminationMaster’s degree in mentioned subjects
Indian Civil Services Examination (ICSE) for recruitment to IAS, IPS, IRS etc officers Bachelor’s degree in any subject.
upsc full form in Hindi

यहाँ पढ़ें : lkg full form in hindi
यहाँ पढ़ें : EDD full form in Hindi

Upsc exam syllabus – Upsc परीक्षा का सिलेबस

Upsc exam के पाठ्यक्रम को उसकी योग्यता के अनुसार बनाया जाता है। आपको इसके syllabus में स्नातक लेवल तक के ज्ञान की जरूरत होती है। इस स्तर के अनुसार ही हर exams का syllabus निश्चित होता है। इसमे अलग – अलग परिक्षा में उनके विषय के अनुसार ही syllabus होता है। इसके syllabus की जानकारी आप exams के अनुसार online चेक कर सकते हैं।

यहाँ पढ़ें : ppm full form in hindi

Upsc Optional subjects – यूपीएससी के विषय

पेपर VI और VII के लिए उपलब्ध विषय हैं:

LawGeographyGeology
Electrical EngineeringMathematicsMedical Science
Political Science and International RelationsPhysicsPhilosophy
SociologyUrduMechanical Engineering
Public AdministrationHistoryManagement
Commerce and AccountancyPsychologyLiterature of any one of the languages listed above
Management
Animal Husbandry and Veterinary Science
StatisticsAgricultureBotany
ZoologyAnthropologyCivil Engineering
PsychologyEconomicsChemistry

Upsc Secretariat – यूपीएससी सचिवालय

upsc full form in Hindi
upsc full form in Hindi

Upsc आयोग के सभी सदस्यों को राष्ट्रपति द्वारा चुना जाता है। इन सदस्यों का कार्यकाल 6 वर्ष तक का होता है या 65 वर्ष की आयु तक। Upsc सदस्य जब चाहे अपने पद से राष्ट्रपति को इस्तीफा दे सकते हैं। इसके अलावा अगर ये सदस्य कभी अपने पद का दुरुपयोग करते हैं, तो राष्ट्रपति को इन्हें बर्खास्त करने का अधिकार होता है।

UPSC के तहत आने वाले पद

UPSC   level A और Level B officers की विभिन्न क्षेत्रों में भर्ती के लिए परीक्षा का आयोजन करता है इसके लिए हर साल सिविल सेवा परीक्षा आयोजित की जाती है, UPSC के चयनित इस प्रकार है

  • भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS),
  • भारतीय पुलिस सेवा (IPS)
  • भारतीय राजस्व सेवा (IRS), 
  • भारतीय विदेश सेवा (IFS)

UPSC Posts Full Form : UPSC परीक्षा पदों के फुल फॉर्म

PostFull Form
IRSIndian Revenue Service
IPSIndian Police Service
IASIndian Administrative Service
IFSIndian Foreign Service
upsc full form in Hindi

UPSC Right to Information

Right to Information एक ऐसा एक्ट है जिसके माध्यम से आप किसी भी सरकारी विभाग से उसके संबंधित कोई भी प्रश्न कर सकते हैं। इसके लिए आपको सही तरीके से याचिका दाखिल करनी होती है, अगर आप सही विभाग में याचिका भेजते हैं तो आपकी याचिका पर सुनवाई होती है। इसलिए नीचे हम आपको UPSC से संबंधित आरटीआई की जानकारी दे रहे हैं, ये सारी जानकारी आप नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करके ले सकते हैं।

upsc full form in Hindi

UPSC Right to Information के डॉक्यूमेंट लिंक प्राप्त करने के लिए नीचे दिए गए बटन पर क्लिक करें।

(UPSC) Union Public Service Commission FAQ in Hindi

Who is eligible for UPSC exam? – यूपीएससी परीक्षा के लिए पात्रता है?

अभ्यार्थी को 21 वर्ष की आयु का होना अनिवार्य है और परीक्षा के वर्ष के 1 अगस्त को (सामान्य श्रेणी के उम्मीदवार के लिए) 32 वर्ष की आयु से अघिक नही होना चाहिए। निर्धारित आयु सीमा में जातिगत आरक्षण के संबंध में भिन्नता होती है। अन्य पिछड़ी जातियों (ओबीसी) के लिए ऊपरी आयु सीमा 35 वर्ष है।

How can I apply for UPSC exam? – मैं यूपीएससी परीक्षा के लिए कैसे आवेदन कर सकता हूं?

अगर आप भी UPSC आनेदन करना चाहते हैं तो नीचे दिए गए स्टेप को देखें

  • यूपीएससी की आधिकारिक वेबसाइट- upsconline.nic.in पर जाएं।
  • परीक्षा अधिसूचना टैब पर क्लिक करें।
  • अप्लाई ऑनलाइन लिंक पर क्लिक करें।
  • सिविल सेवा भाग- I पंजीकरण के लिए उपलब्ध लिंक पर क्लिक करें।
  • एप्लिकेशन फॉर्म निर्देशों को ध्यान से पढ़ें और हां पर क्लिक करें।
  • अपनी जानकारी भरकर सबमिट करें।

Which is the highest post in UPSC? – UPSC में सर्वोच्च पद कौन सा है?

UPSC में सर्वोच्च पद के लिए कैबिनेट सचिव IAS शीर्ष पद और भारत सरकार के वरिष्ठ नागरिक अधिकारी हैं। वैसे यूपीएससी के सभी पद सम्मानजनक पदों मे आते हैं।

Does 12th Percentage matter in UPSC? – क्या यूपीएससी में 12 वीं का प्रतिशत मायने रखता है?

SSC और UPSC के लिए कोई भी कक्षा 12 के अंक मायने नहीं रखता। सिविल सेवाओं के लिए पात्रता यह है कि आपको संबंधित विषयों में किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान से स्नातक की डिग्री होनी चाहिए।

What is the best time to prepare for UPSC? – यूपीएससी की तैयारी के लिए सबसे अच्छा समय क्या है?

यदि आपने अपनी स्नातक की पढ़ाई पूरी कर ली है तो आमतौर पर आप 21-23 वर्ष की आयु के होते हैं। IAS परीक्षा की गंभीरता से तैयारी करने का यह सबसे अच्छा समय है। IAS परीक्षा में कई सफलताएँ 2 और 3 और 4 के प्रयासों में होती हैं, जो 22 से 26 वर्ष की आयु में होती हैं।

Written by Amit Singh

I am a technology enthusiast and write about everything technical. However, I am a SAN storage specialist with 15 years of experience in this field. I am also co-founder of Hindiswaraj and contribute actively on this blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

EDD full form in Hindi

EDD full form in Hindi – EDD का फुल फॉर्म क्या होता है

आरती संग्रह aarti sangrah

आरती संग्रह | Aarti Sangrah | Lyrics Written in Hindi | Complete Aarti Collection