in

apl & bpl full form in hindi – बीपीएल का फुल फॉर्म क्या होता है

Table Of Contents
show

What is the full form of BPL in Hindi – फुल फॉर्म ऑफ बीपीएल, बीपीएल का फुल फॉर्म क्या होता है, BPl kya hota hai, BPL ka poora naam kya hai, बीपीएल का मतलब क्या होता है, बीपीएल की शुरुआत कहा से हुई थी, बीपीएल का उपयोग कब किया किया जाता है? अगर आपके मन में भी बीपीएल को लेकर ऐसे सवाल हैं तो ये लेख आपके लिए ही है। इस लेख में आपको बीपीएल से संबंधित सभी जानकारी देने की कोशिश की गई है।

What is the full form of BPL in Hindi – बीपीएल की फुल फॉर्म,

full form of BPLBelow Poverty Line
बीपीएल का फुल फॉर्म हिंदी में,गरीबी रेखा से नीचे निर्धनता रेखा
full form of BPL in Hindi

BPL का फुल फॉर्म होता है full form of BPl “Below Poverty Line” बिलो पॉवर्टी लाइन जिसका हिंदी में मतलब होता है गरीबी रेखा से नीचे निर्धनता रेखा। BPL का मकसद आर्थिक रूप से कमजोर लोगों और परिवारों को सरकारी सहायता की तत्काल आवश्यकता में पहचानने के लिए भारत सरकार द्वारा स्थापित एक आर्थिक बेंचमार्क है। यह आय की एक सीमा को निर्धारित करता है जिन लोगों की आय इस सीमा रेखा से कम होती है उन्हे गरीबी रेखा से निचे माना जाता है।

What does BPL mean? – बीपीएल का मतलब क्या होता है

BPL का अर्थ है गरीबी रेखा से नीचे वाले लोगों को भारत सरकार द्वारा आर्थिक नुकसान की भरपाई करने और मुफ्त सहायता के लिए व्यक्तियों और परिवारों की पहचान करने के लिए एक सीमा यानी बेंचमार्क तैयार किया जाता है यह विभिन्न मापदंडों का उपयोग करके निर्धारित किया जाता है जो राज्य से राज्य और राज्यों के भीतर भिन्न होता है।

full form of APL and BPL video – एपीएल और बीपीएल का पूर्ण रूप क्या है?

full form of BPL in Hindi

गरीबी रेखा के ऊपर (एपीएल) राशन कार्ड जो गरीबी रेखा से ऊपर रहने वाले परिवारों को जारी किए गए थे। (जैसा कि योजना आयोग द्वारा अनुमान लगाया गया है)। इन परिवारों को 15 किलोग्राम खाद्यान्न (उपलब्धता के आधार पर) प्राप्त हुआ। गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले परिवारों को गरीबी रेखा (बीपीएल) राशन कार्ड जारी किए गए थे।

Various schemes of BPL section – BPL सेक्शन की विभिन्न योजनाएं

full form of BPL in Hindi
full form of BPL in Hindi

सरकार द्वारा निर्मित बीपीएल यानी गरीबी रेखा को नियमित रुप से चलाने के लिए विभिन्न योजनाएं शुरु की गई हैं ताकि खाद्ध, आश्रय और कपड़े जैसी बुनियादी जरुरतों को पूरा किया जा सके। सी रंगपाजन पूर्व रिज़र्व बैंक के गवर्नर की अध्यक्षता वाली एक समीति के मुताबिक भारत की कुल जनसंख्या का लगभग 30% भाग 2011-12 में गरीबी में रहता था।

गरीबी रेखा से नीचे आने वाले लोगों की पहचान करने के लिए सरकार विभिन्न कार्यों का उपयोग करती है। लेकिन यह कार्य अलग- अलग राज्यों मे भिन्न हो सकते हैं, तथा ग्रामीण और शहरी क्षेत्रो के लिए भी अलग हो सकते हैं। इसके साथ – साथ विभिन्न देशों मे गरीबी रेखा को दर्शाने के लिए विभिन्न मानदंड और तरीके भी हो सकते हैं। जिनमे से कुछ उदाहरण इस प्रकार है-

मकान – House

जमीन – Landholding

उपभोक्ता टिकाऊ वस्तुएं – Consumer Durables

कपड़े – Clothing

खाद्य सुरक्षा – Food Security

बच्चों की स्थिति – Status of Children

साक्षरता की स्थिति – Literacy Status

स्वच्छता – Sanitation

यहाँ पढ़ें : अन्य सभी full form के बारे में

How is poverty defined – गरीबी को कैसे परिभाषित किया जाता है

full form of BPL in Hindi
full form of BPL

देखा जाए तो रगीबी रेखा को समझपाना थोड़ा मुश्किल काम है, भारत में इस मुद्दे को लगभग सभी सरकारों नें सुलझाने की कोशिश की है, लेकिन फिर भी इस पर संदेह बना रहता है, 1970 के आसपास पहली बार गरीबी रेखा के निर्माण योजना आयोग को गठित किया गया था, जिसमे ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों में क्रमश: एक वयस्क के लिए 2400 और 2100 कैलोरी प्रतिदिन की जरुरत को आधार बनाया गया था।

समय के साथ – साथ इसमे थोड़ा परिवर्तन करते हुए लोगों की कुछ जरुरी आवश्यकताओं पर भी विचार किया गया। जिसके अंतर्गत आवास, वस्त्र, स्वास्थ्य, स्वच्छता, शिक्षा, वाहन, ईंधन तथा मनोरंजन आदि को भी शामिल किया गया था। यह कार्य उत्तर प्रदेश सरकार के कार्यकाल मे सुरेश तेंदुलकर ने 2009 और सी रंगराजन ने 2014 में किया।

सरल पर बीपीएल कार्ड कैसे बनवाएं

Benefits of BPL Ration Card – बीपीएल राशन कार्ड से मिलने वाले लाभ

full form of BPL in Hindi
full form of BPL

गरीबी रेखा को ध्यान मे रखते हुए भारत में बीपीएल राशन कार्ड दिए जाते हैं जिसके बहुत से लाभ मिलते है। जिसका लाभ लगभग सभी लोग ले सकते हैं। सरकार द्वारा बीपीएल श्रेणी मे शामील लोगों के लिए बहुत सा योजनाए बनाई गई हैं जैसे जो व्यक्ति गरीबी रेखा के नीचे आते हैं और जिनके पास बीपीएल कार्ड है वह एएवाई योजना के तहत लाभ उठा सकते हैं।

इस योजना के तहत चुनिंदा लोगों को राशन कार्ड दिए जाते हैं जो इन व्यक्तियों के लिए बहुत फादेमंद होते हैं। जैसे – जिन लोगों के पास जमीन नही होती है उनको बीपीएल राशन कार्ड द्वारा निम्न फायदे मिलते हैं –

चावल –  हर महिने 35 किलो चावल 3 रुपय की दर से दिए जाते हैं इसके साथ – साथ उपभोक्ताओं को अनाज – बीपीएल कार्ड द्वारा लोगों को 2 रुपय किलो की दर से गेहूँ, हर महिने मुहिया कराया जाता है।

चीनी – चावल और गेहूँ के साथ – साथ चीनी भी मुहिया कराई जाती है।

नमक तथा दालें – जिन लोगों के पास बीपीएल कार्ड होता है उन लोगों को बहुत ही कम दाम पर नमक और दाले भी मुहिया कराई जाती हैं।

केरोसिन तेल – बीपीएल कार्ड की मदद से चूल्हा जलाने के लिए सरकार केरोटिन तेल भी प्रदान करती है।

बीपीएल कार्ड से स्वास्थ्य संबंधी लाभ

बीपीएल कार्ड के माध्यम से न सिर्फ आपको खाने का सामान मिलता है बल्कि स्वास्थ्य संबंधी लाभ भी मिलते हैं जैसे यदि आपको कोई बीमारी हो जाती है तो आप अपने बीपीएल कार्ड की सहायता से किसी भी सरकारी हस्पताल में बहुत कम पैसों में अपना इलाज करा सकते हैं या अपने परिवार के किसी सदस्य का भी करा सकते हैं।

Other facilities available on BPL card  – बीपीएल कार्ड पर मिलने वाली अन्य सुविधाएं –

full form of BPL in Hindi

शिक्षा में लाभ – बीपीएल कार्ड के बहुत से फायदे होते हैं शिक्षा के क्षेत्र में भी आपबीपीएल कार्ड का लाभ ले सकते हैं सरकार ने इन परिवारों के बच्चों को बेहतर शिक्षा देने के लिए सरकारी शिक्षा संस्थानों में फीस में बहुत राहत दी है तथा इसके साथ – साथ कई अन्य सुविधाएं प्रदान की जाती हैं।

बैंक लोन लेने मे सुविधा – बीपीएल कार्ड का एक बहुत अच्छा फायदा है और वो है बैंक लेन मे फायदा। बीपीएल कार्ड वालों को बैंक लोन में बहुत अच्छी सुविधाए दी जाती हैं। बीपीएल धारक किसी भी सरकारी बैंक से लोन प्राप्त कर सकता है वो भी बहुत ही कम ब्याज दर पर। यह लोन आप अपने किसी भी निजी काम मे उपयोग कर सकते हैं।

बीपीएल कार्ड पर फ्रि मुफ्त दवा – केंद्र सरकार द्वारा गरीबी रेखा से नीचे के लोगों को बीपीएल कार्ड के माध्यम से मुफ्त में दवा तथा विशेष सरकारी अस्पताल (Specialty Government Hospitals) मे जांच की सुविधा देने की भी तैयारी कर रही है।

What does APL stand for?  – APL का क्या मतलब होता है –

जिस प्रकार बीपीएल का फुल फॉर्म गरीबी रेखा के नीचे होता है उसी का विपरित होता है एपीएल यानी गरीबी रेखा से उपर। भारत गरीबी रेखा को ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों मे विभाजित करता है। शहरी क्षेत्रों को गरीबी रेखा से उपर माने जाने वाला उच्च मासिक न्यून्नतम आय स्तर तक पहुँचना चाहिए।

FAQ

What BPL means? – bpl ka arth kya hai

BPL का मतलब गरीबी रेखा से नीचे है। यह सरकारी सहायता की तत्काल आवश्यकता में आर्थिक रूप से कमजोर लोगों और परिवारों की पहचान करने के लिए भारत सरकार द्वारा निर्धारित एक आर्थिक बेंचमार्क है। यह एक निम्न आय को संदर्भित करता है। भारत में, 2011 में, गरीबी रेखा को सुरेश तेंदुलकर समिति द्वारा परिभाषित किया गया था।

How can I add my name in BPL? – मैं बीपीएल में अपना नाम कैसे जोड़ सकता हूं?

पहला उस विशेष राज्य के खाद्य, आपूर्ति और उपभोक्ता मामलों के विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाकर है। जहां आप निवास कर रहे हैं। हर राज्य इसे स्वतंत्र रूप से करता है। वहां, आप अपने मौजूदा बीपीएल कार्ड में परिवार के सदस्यों के नाम जोड़ने के लिए आवेदन पत्र प्राप्त कर सकते हैं।

Who comes under BPL? – BPL के अंतर्गत कौन आता है?

अधिकतम 52 अंकों में से 17 अंक या उससे कम (पूर्व में 15 अंक या उससे कम) वाले परिवारों को बीपीएल के रूप में वर्गीकृत किया गया है। गरीबी रेखा केवल कीमतों के स्तर के बजाय भारत में प्रति व्यक्ति आय पर निर्भर करती है।

Which is the poorest state in India? – भारत का सबसे गरीब राज्य कौन सा है?

39.93% गरीबी रेखा से नीचे रहने वाली आबादी में छत्तीसगढ़ सबसे गरीब राज्य है। 2004 के बाद से, 2011-12 तक, गरीबी की मामूली कमी 40.9% से 39.93% थी। छत्तीसगढ़ के बाद झारखंड में 36.96% आबादी गरीबी रेखा के नीचे रहती थी।

What does poverty line mean? – गरीबी रेखा का क्या अर्थ है?

गरीबी सीमा,गरीबी रेखा या रोटी रेखा, किसी विशेष देश में आय का न्यूनतम स्तर माना जाता है। गरीबी रेखा की गणना आमतौर पर उन सभी आवश्यक संसाधनों की कुल लागत का पता लगाकर की जाती है जो एक वर्ष में एक औसत मानव वयस्क खाता है।

What is the annual income of BPL? – BPL की वार्षिक आय क्या है?

कैबिनेट ने सार्वजनिक वितरण योजना के तहत गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवारों के लिए अलग-अलग कार्ड जारी करने का फैसला किया था। इसके लिए वार्षिक आय सीमा ग्रामीण में 10,000 रुपये और शहरी क्षेत्रों में प्रति माह प्रति परिवार 12,000 रुपये तक बढ़ाई गई है।

What are the benefits of BPL card? – BPL कार्ड के क्या लाभ हैं?

इस योजना के तहत, जिसे आयुष्मान भारत और आरोग्य कर्नाटक कहा जाता है, एक बीपीएल (गरीबी रेखा से नीचे) परिवार प्रति वर्ष 5 लाख रुपये तक और एक एपीएल परिवार 1.5 लाख रुपये तक का इलाज करवा सकता है।

What is poverty line in India? – भारत मे गरीबी रेखा क्या है?

वर्तमान गरीबी रेखा ग्रामीण क्षेत्रों में प्रति माह 1,059.42 भारतीय रुपए (62 पीपीपी यूएसडी) और शहरी क्षेत्रों में 1,286 भारतीय रुपए (75 पीपीपी यूएसडी) प्रति माह है। भारत की राष्ट्रव्यापी औसत गरीबी रेखा प्रत्येक राज्य की गरीबी रेखा से अलग है।

Who is considered poor in India? – भारत में किसे गरीब माना जाता है?

भारत में दो-तिहाई लोग गरीबी में रहते हैं: भारतीय आबादी का 68.8% एक दिन में $ 2 से कम पर रहता है। 30% से अधिक भी $ 1.25 प्रति दिन से कम उपलब्ध कर पाता हैं – उन्हें बेहद गरीब माना जाता है।

Who is eligible for ration card in India? – भारत में राशन कार्ड के लिए कौन पात्र है?

कोई भी व्यक्ति जो भारत का नागरिक है, राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है। नाबालिग यानी 18 साल से कम उम्र के बच्चे अपने माता-पिता के कार्ड में शामिल होते हैं। हालांकि, 18 वर्ष से अधिक आयु का व्यक्ति अलग राशन कार्ड के लिए आवेदन कर सकता है।

BPL Card ke lie maapdand kya hai?

ग्रामीण और शहरी क्षेत्रों के लिए मानदंड अलग हैं। अधिकतम 52 अंकों में से 17 अंक या उससे कम (पूर्व में 15 अंक या उससे कम) वाले परिवारों को बीपीएल के रूप में वर्गीकृत किया गया है

BPL parivaar ka kya matalab hai?

“गरीबी रेखा की नीचे” भारत सरकार द्वारा निर्धारित किया गया एक बेंचमार्क है, जो आर्थिक स्थिति की ओर संकेत करता है। जो गरीब व्यक्तियों और परिवारों की पहचान करके सरकारी सहायता देना है, जो विभिन्न मापदंडों का उपयोग करके निर्धारित किया जाता है जो राज्य और राज्यों के भीतर भिन्न होता है

BPL Card ka kya laabh hai?

बीपीएल कार्ड के द्वारा परिवारों को आर्थिक लागत का 50% प्रति माह प्रति परिवार 10 किलोग्राम से 20 किलोग्राम अनाज प्राप्त होता है। गेहूं, चावल, चीनी और अन्य वस्तुओं की निर्दिष्ट मात्रा के लिए रियायती अंत खुदरा मूल्य अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग हैं

निष्कर्ष – दोस्तों इस लेख में हमने आपको बीपीएल से संबंधित सभी जानकारी प्रदान की है जैसे – What is the full form of BPL in Hindi – बीपीएल का फुल फॉर्म क्या होता है, BPl kya hota hai, BPL ka poora naam kya hai, बीपीएल का मतलब क्या होता है, बीपीएल की शुरुआत कहा से हुई थी, बीपीएल का उपयोग कब किया किया जाता है? आशा करते हैं कि आपको ये लेख पसंद आया होगा। इसी तरह के अन्य फुल फॉर्म के बारे में जानने के लिए हमारी वेबसाइट हिंदी स्वराज पर लोगिन करें।

Reference-
13 December 2020, Full form of BPL in Hindi, wikipedia

Written by Amit Singh

I am a technology enthusiast and write about everything technical. However, I am a SAN storage specialist with 15 years of experience in this field. I am also co-founder of Hindiswaraj and contribute actively on this blog.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Full form of TTYL in Hindi

What is the full form of TTYL in Hindi – टीटीवाएएल का फुल फॉर्म क्या होता है

Full form of IKR in Hindi

What is the full form of IKR in Hindi – आईकेआर का फुल फॉर्म क्या होता है