ECG Full Form In Hindi | ईसीजी का फुल फॉर्म क्या है? | what is the full form of ECG in Hindi

ECG Full Form In Hindi, ईसीजी का फुल फॉर्म क्या है?, what is the full form of ECG in Hindi, ecg test in hindi, eeg full form in hindi, ecg in hindi, ecg reading in hindi, ct scan full form, ecg full form in marathi, ईसीजी टेस्ट price, नार्मल ईसीजी रिपोर्ट


यहाँ पढ़ें: EBC full form in hindi

दोस्तों क्या आप जानते हैं कि ईसीजी क्या होता है, अगर नही तो आपकी जीनकारी के लिए बता दें कि ईसीजी दिल की धड़कन मापने का एक यंत्र होता है जो यह बताता है कि आपके दिल की धड़कन सामान्य है या कम या अधिक है।

ईसीजी का फुल फॉर्म इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम होता है। यह एक परीक्षण को संदर्भित करता है जो हृदय की विद्युत गतिविधि की जांच के लिए किया जाता है । सामान्य विद्युत गतिविधि इंगित करती है कि हृदय सामान्य रूप से काम कर रहा है ।

यहाँ पढ़ें: CPR full form in Hindi

ECG Full Form In Hindi | ईसीजी का फुल फॉर्म क्या है?

ECG Full Form In EnglishElectro cardio diagram
ECG Full Form In Hindiविद्युतयंत्र द्वारा ह्रदय की धड़कनों का रेखाचित्रण
ECG Full Form In Hindi

ECG (ईसीजी) ka full form: Electro cardio diagram होता है, ECG (ईसीजी) का मतलब या फ़ुल फ़ॉर्म हिंदी में विद्युतयंत्र द्वारा ह्रदय की धड़कनों का रेखाचित्रण (इलेक्ट्रो कार्डियो डायग्राम) होता है। जब दिल धड़क रहा होता है तो ईसीजी विद्युत आवेगों को रिकॉर्ड करता है । इन आवेगों को कागज की एक चलती पट्टी या एक स्क्रीन पर दर्ज किया जाता है, अर्थात यह हृदय की विद्युत गतिविधि को कागज पर लाइन ट्रेसिंग के रूप में दिखाता है।

ECG Full Form In Hindi
ECG Full Form In Hindi

यहाँ पढ़ें: BSDK Full Form In Hindi

ईसीजी की आवश्यकता | ECG Requirement

ईसी जी यानी इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम की आवश्यकता इसलिए होती है क्योंकि यह दिल से संबंधित विभिन्न समस्याओं का पता लगा सकता है, कुछ नीचे सूचीबद्ध हैं-

  • अतीत में दिल का दौरा (मायोकार्डियल रोधगलन)
  • असामान्य हृदय ताल
  • अस्पष्टीकृत सीने में दर्द का कारण
  • दिल के एक तरफ का बढ़ना
  • हृदय कक्षों की दीवारों की मोटाई
  • कोलेस्ट्रॉल जमा होने के कारण हृदय को प्रतिबंधित रक्त की आपूर्ति
  • पेसमेकर जैसे प्रत्यारोपण के प्रदर्शन की जांच करने के लिए

कुछ मामलों में यह टेस्ट करवाना जरूरी है । आपके पास शायद ईसीजी होना चाहिए यदि आपके पास बढ़े हुए दिल के लिए जोखिम कारक हैं जैसे उच्च रक्तचाप या हृदय रोग के लक्षण, जैसे सीने में दर्द, सांस की तकलीफ, अनियमित दिल की धड़कन या भारी दिल की धड़कन । आपको स्क्रीनिंग या व्यावसायिक आवश्यकताओं के लिए परीक्षण की आवश्यकता हो सकती है, या यदि आपके पास हृदय रोग, मधुमेह या अन्य जोखिमों का व्यक्तिगत या पारिवारिक इतिहास है और आप व्यायाम शुरू करना चाहते हैं । यदि कोई व्यक्ति उच्च कोलेस्ट्रॉल, मधुमेह, उच्च रक्तचाप आदि से पीड़ित है तो हृदय की स्वास्थ्य जांच करें।

यहाँ पढ़ें: Full Form List in Hindi & English

ईसीजी परीक्षण क्यों किया जाता है

एक ईसीजी का उपयोग दिल की धड़कन मापने के लिए किया जाता है: सामान्यत: यह देखने के लिए कि दिल को कोई नुकसान तो नही है, आपका दिल कितनी तेजी से धड़क रहा है और क्या यह सामान्य रूप से धड़क रहा है। हृदय को नियंत्रित करने के लिए उपयोग की जाने वाली दवाओं या उपकरणों के प्रभाव (जैसे पेसमेकर) आदि।

आपके हृदय कक्षों का आकार और स्थिति जांचने के लिए। ईसीजी अक्सर यह निर्धारित करने के लिए किया जाने वाला पहला परीक्षण होता है कि किसी व्यक्ति को हृदय रोग है या नहीं । आपका प्रदाता इस परीक्षण का आदेश दे सकता है यदि:

  • आप के सीने में दर्द हो
  • आप सर्जरी के लिए निर्धारित हैं
  • आपको अतीत में दिल की समस्या रही है
  • आपके परिवार में हृदय रोग का एक मजबूत इतिहास है

ईसीजी के प्रकार | Types of ECG

ईसीजी के 3 मुख्य प्रकार हैं:

  • a resting ECG (एक आराम ईसीजी) – जब आप एक आरामदायक स्थिति में लेटे हों तो किया जाता है
  • a stress or exercise ECG (एक तनाव या व्यायाम ईसीजी) – जब आप व्यायाम बाइक या ट्रेडमिल का उपयोग कर रहे हों
  • an ambulatory ECG (एक एम्बुलेटरी ईसीजी -जिसे कभी – कभी होल्टर मॉनिटर कहा जाता है) – इलेक्ट्रोड आपकी कमर पर पहनी जाने वाली एक छोटी पोर्टेबल मशीन से जुड़े होते हैं ताकि आपके दिल की निगरानी घर पर 1 या अधिक दिनों तक की जा सके

ECG Benefits | ईसीजी से लाभ

एक ईसीजी पता लगाने में मदद कर सकता है:

  • अतालता (arrhythmias) – जहां दिल बहुत धीरे-धीरे, बहुत जल्दी या अनियमित रूप से धड़कता है
  • कोरोनरी हृदय रोग (coronary heart disease) – जहां वसायुक्त पदार्थों के निर्माण से हृदय की रक्त आपूर्ति अवरुद्ध या बाधित होती है
  • दिल का दौरा (heart attacks) – जहां हृदय को रक्त की आपूर्ति अचानक अवरुद्ध हो जाती है
  • कार्डियोमायोपैथी (cardiomyopathy) – जहां हृदय की दीवारें मोटी या बढ़ जाती हैं

सामान्य परिणाम

सामान्य परीक्षा परिणामों में अक्सर शामिल होते हैं:

  • हृदय गति: 60 से 100 बीट प्रति मिनट
  • दिल की लय: सुसंगत और सम

असामान्य परिणामों का क्या अर्थ है | ECG Test से क्या क्या पता चलता है

असामान्य ईसीजी परिणाम का संकेत हो सकता है:

  • हृदय की मांसपेशियों को नुकसान या परिवर्तन
  • रक्त में इलेक्ट्रोलाइट्स (जैसे पोटेशियम और कैल्शियम) की मात्रा में परिवर्तन
  • जन्मजात हृदय दोष
  • दिल का बढ़ना
  • हृदय के चारों ओर थैली में द्रव या सूजन
  • दिल की सूजन (मायोकार्डिटिस)
  • अतीत या वर्तमान दिल का दौरा
  • हृदय धमनियों को खराब रक्त की आपूर्ति
  • असामान्य हृदय लय (अतालता)

नॉरमल ईसीजी कितना होना चाहिए?

नॉरमल ईसीजी वयस्कों में आदर्श ह्रदय दर 60-80 धड़कन प्रति मिनट होती है, 60 धड़कन प्रति मिनट से कम होने पर उसे कमस्पंदनता और 100 धड़कन प्रति मिनट से अधिक की दर होने पर हृद्क्षिप्रता कहते हैं

Ecg in Hindi |Ecg signal Procedure in Hindi |ECG reading in Hindi language| Dr Gulati

ECG Full Form In Hindi

Full Form of ECG in Hindi – FAQ

ईसीजी से क्या पता चलता है?

ईसीजी यानी इलेक्ट्रोकार्डियोग्राम आपके हार्ट की लय तथा विद्युतीय क्रियाओं को जांचने का एक सामान्य टेस्ट है।

ईसीजी का मतलब क्या होता है?

ईसीजी का मतलब त्वचा के विद्युत चालकों से एक नियत समय के लिए हृदय की वैद्युत गतिविधि को बाहर से रिकॉर्ड किए जाने की पारवक्षीय है।

ईसीजी कैसे करते हैं?

ईसीजी टेस्ट के दौरान (How to do ECG test) आपके सीने, हाथों, पैरों पर छोटे इलेक्ट्रोड पैच लगा दिए जाते हैं। इन इलेक्ट्रोड पैच के जरिए दिल की इलेक्ट्रिक एक्टिविटी को रिकॉर्ड किया जाता है।

ईसीजी और इको में क्या अंतर है?

ईसीजी का उपयोग यह जानने के लिए करते हैं कि आपके हृदय की यह इलेक्ट्रिकल एक्टिविटी ठीक तरह से हो रही है या नहीं।

दिल कमजोर होने के लक्षण क्या?

दिल कमजोर होने के 7 लक्षण है

  • खर्राटे और नींद से जुड़ी समस्या
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • कंधे और छाती में दर्द
  • बेचैनी और छाती में दबाव महसूस होना
  • लगातार सर्दी और जुकाम का बने रहना

यहाँ पढ़ें: अन्य सभी फुल फॉर्म

IPS Display full form in HindiTEACHER full form in Hindi
SBI full form in hindiCCTV Full Form in Hindi
BBC full form in hindiCDS full form in hindi
vdrl full form in hindiBank PO full form in hindi
IRCTC Full Form in HindiUNO Full Form in Hindi
PhD full form in HindiUSA Full Form in Hindi
VIRUS Full Form in HindiNASA Full Form in Hindi
computer full form in HindiNICU full form in hindi
IP Full Form in HindiMMS Full Form in Hindi
VIP Full Form in HindiPWD Full Form in Hindi
MRI Full Form in Hindicibil full form in hindi
ICC Full Form In HindiMD Full Form in Hindi
SCHOOL Full Form in HindiCCC Full Form in Hindi
CEO Full Form in HindiERP Full Form in Hindi
ICU Full Form in HindiISO Full Form in Hindi
ivf full form in hindiLCM And HCF Full Form in Hindi
LIC Full Form in HindiMA Full Form in Hindi
UNICEF full form in Hindippm full form in Hindi
DNA full form in HindiPHC full form in Hindi
MC full form in HindiNSS full form in Hindi
IQ full form in HindiNGO full form in Hindi
PVC full form in HindiTTYL full form in Hindi
CSC full form in HindiPDF full form in Hindi
LOL full form in HindiAIDS full form in Hindi
JCB full form in HindiUFO full form in Hindi
CHC full form in HindiGDP full form in Hindi
CTC full form in HindiBSDK Full Form In Hindi
CPR full form in HindiEBC full form in Hindi
ECG full form in HindiNato full form in Hindi
NPCI Full Form in HindiOCD Full Form in Hindi

reference
ECG Full Form In Hindi

Leave a Comment