DNA full form in hindi | डीएनए का फुल फॉर्म क्या होता है | full form of DNA | DNA meaning in Hindi | DNA full form in Medical

Table Of Contents
show

आधुनिक युग को विज्ञान का युग कहा जाता है। समय के साथ- साथ विज्ञान ने बहुत उन्नति कर ली है। जिससे हर परेशानी का समाधान करना संभव हो गया है। वर्तमान समय मे मनुष्य ने विज्ञान की मदद से अंतरिक्ष से लेकर मानव स्वास्थ्य तक के क्षेत्रो मे उपलब्धियां हासिल की हैं।

विज्ञान के द्वारा ही मानव स्वास्थ्य के क्षेत्र मे डीएनए DNA की खोज की गई है। डीएनए के माध्यम से मनुष्य ने कई जटिल समस्याओं को हल किया है। आज इस लेख मे हम आपको डीएनए के बारे मे ही जानकारी दे रहे हैं जैसे- डीएनए की फुल फॉर्म क्या होती है और क्या होता है डीएनए।

यहाँ पढ़ें : ph full form in hindi

DNA full form in hindi | डीएनए का फुल फॉर्म क्या होता है | what is the full form of dna | DNA meaning in Hindi | DNA full form in Medical | डीएनए का फुल फॉर्म क्या है

full form of DNA Deoxyribo Nucleic Acid
full form of DNA in Hindi डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक अम्ल
Invention 1953
discoverer जेम्स और फ्रांसिस क्रिक
full form of DNA

dna ka full form | डीएनए का फुल फॉर्म हिंदी में | डीएनए फुल फॉर्म

डीएनए का फुल फॉर्म होता है। “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक अम्ल” (Deoxyribo Nucleic Acid) डीएनए जीवित कोशिकाओं के गुण सूत्रों मे पाए जाने वाले तंतुनुमा अणु होते हैं। डीएनए का एक अणु चार अलग- अलग तत्वों से मिलकर बनता है। जो न्यूक्लियोटाइड कहलाता है। डीएनए की संरचना बहुत ही घुमावदार होती है। यह हर एक जीवित कोशिका के लिए ज़रुरी है।

यहाँ पढ़ें : MC full form in hindi

dna ki ful form kya hoti hai | फुल फॉर्म ऑफ़ डीएनए टेस्ट | डीएनए की फुल फॉर्म | डीएनएस जांच फिनिश्ड एनएक्सडोमेन

full form of DNA

यहाँ पढ़ें : EDD full form in Hindi

What is DNA डीएनए क्या होता है? | dna ki ful form kya hai

डीएनए को “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक अम्ल” कहा जाता है। इसकी आकृति लहरदार होती है। डीएनए के अणु की संरचना एक घुमावदार सीढ़ी की तरह होती है। और यह हर एक कोशिका के लिए ज़रुरी होता है। हर एक डीएनए का अणु चार तत्वों से मिलकर बनता है जो न्यूक्लियोटाइड कहलाता है। जिन्हे- एडेनिन, ग्वानिन, थाइमिन और साइटोलिन कहते हैं। हर न्यूक्लियोटाइड मे एक नाइट्रोजन युक्त वस्तु होती है।  

DNA की आकृति घुमावदार होती है इसलिए सोचने वाली बात यह है कि DNA को अगर सुलझाया जाए तो यह सूर्य से पृथ्वी तक की दूरी को कई बार नाप सकता है।

DNA हर कोशिका मे 0.09 माइक्रोमीटर की जगह लेता है। तथा 1 ग्राम DNA मे 700 टेराबाईट की जानकारी दी जाती है। DNA अपना प्रतिरुप बनाता है जिससे हर कोशिका विभाजन के समय हर नई कोशिका को DNA मिल सके। हमारे शरीर से प्रतिदिन 1 हजार से लेकर 10 लाख तक डीएनए नष्ट हो जाते हैं। और लगभग इतने ही DNA बनते भी हैं। आपको जानकर हैरानी होगी लेकिन दुनियां की जितनी भी प्रजातियां है उनकी जानकारी को एक चम्मच DNA मे सुरक्षित किया जा सकता है।

यहाँ पढ़ें : full form of FOMO in Hindi

What are the 3 types of DNA? | डीएनए कितने प्रकार के होते हैं

डीएनए मुख्यत: तीन प्रकार के होते है।

  • ए-डीएनए: यह बी-डीएनए फॉर्म के समान दाएं हाथ का डबल हेलिक्स है ।
  • बी-डीएनए: यह सबसे आम डीएनए रचना है और दाएं हाथ का हेलिक्स है ।
  • जेड-डीएनए: जेड-डीएनए एक बाएं हाथ का डीएनए है जहां ज़िग-ज़ैग पैटर्न में बाईं ओर डबल हेलिक्स हवाएं होती हैं ।

यह निम्न प्रकार के वंशावली डीएनए परीक्षण होते है-

एक्स- डीएनए और ऑटोसोमल
वाई- डीएनए और एमटीडीएनए

ऑटोसोमल परीक्षण गुणसूत्र (1-22) और एक्स को देखते हैं। ऑटोसोम (गुणसूत्र 1-22) माता- पिता और उनके सभी पूर्वजों से विरासत मे मिलते है। एक्स- गुणसूत्र एक विशेष वंशानुक्रम पैटर्न को फोलो करता है।

वाई- डीएनए, वाई- क्रोमोसोम को देखता है, जो बेटे को पिता से विरासत मे मिलता है। और केवल पुरुषों द्वारा उनकी प्रत्यक्ष पैतृक रेखा का पता लगाने के लिए किया जा सकता है।

डीएनए माइट्रोकॉन्ड्रिया को देखता है, जो माँ से बच्चे को विरासत मे मिलते है। और इसलिए इसका उपयोग प्रत्यक्ष मातृ रेखा का पता लगाने के लिए किया जाता है।

यहाँ पढ़ें : Full form of TCS in Hindi

(Invention of DNA) | When and who discovered DNA | डीएनए की खोज कब और किसने की

 डीएनए जिसे “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक अम्ल” कहा जाता है कि खोज वर्ष 1953 मे जेम्स और फ्रांसिस क्रिक वैज्ञानिको ने की थी। और इस खोज के लिए इन्हे 1962 मे नोबल पुरस्कार भी मिला था। DNA एक मॉलिक्यूल होता है। जिसमे सभी जीवों के जेनेटिक कोड मौजूद होते हैं। DNA सभी जीवों अर्थात मनुष्यों, पेड़ पौधों, जीव जंतुओं, बैक्टीरिया और कीटाणु आदि सभी मे पाया जाता है।

full form of DNA
full form of DNA

Where is the DNA found? डीएनए कहां पाया जाता है

हमारे शरीर मे DNA लाल रक्त कोशिकाओं को छोड़कर लगभग सभी कोशिकाओं मे पाया जाता है। हर मनुष्य का DNA उसके माता पिता के DNA के मिश्रण से बना होता है। और इसी कारण माता पिता के बहुत से लक्षण और आदतें बच्चों मे भी पाई जाती हैं। जैसे चमड़ी का रंग, बालों का रंग, कद, आँखे आदि।

What is a DNA test? डीएनए टेस्ट क्या होता है

आपने कभी न कभी डीएनए का नाम ज़रुर सुना होगा। और क्या आप जानते हैं कि इसका टेस्ट कैसे होता है। वर्तमान मे DNA के 1200 प्रकार के टेस्ट होते हैं। DNA एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी मे स्थानांतरित होता है। प्रत्येक मनुष्य के जीन्स मे 46 गुणसूत्र होते हैं जिनमे से 23 पिता के तथा 23 माता के होते है।

अगर किसी के DNA मे परिवर्तन आता है तो उसे म्यूटेशन कहा जाता है, क्योंकि माना जाता है कि यह किसी रासायनिक दोष की वजह से हुआ होगा या फिर सूर्य की पराबैंगनी किरणों की वजह से।

DNA टेस्ट की मदद से आनुवांशिक बीमारियों का पता भी लगाया जा सकता है इससे आनुवांशिक गुणों की पूरी जानकारी मिलती है। और साथ ही साथ यह भी निश्चित किया जा सकता है कि आपको आने वाले समय मे कौन सी बीमारी होगी। DNA टेस्ट के माध्यम से बालों और आँखो का रंग भी सुनिश्चित किया जा सकता है।

यहाँ पढ़ें : अन्य सभी full form

DNA टेस्ट कैसे होता है

 DNA टेस्ट मनुष्य के बालों, गाल के अंदर की कोशिकाएं, मूत्र के सेंपल, खून एवं त्वचा की मदद से किया जा सकता है। इन्ही सेंपल के आधार पर DNA की जांच की जाती है जिसे मान्यता प्राप्त प्रयोगशाला मे ही किया जाता है। और जांच की रिपोर्ट 10 से 20 दिनो के दर दे दी जाती है। DNA जांच करवाने के लिए आपको 5000 से 50000 तक राशि खर्च करनी पड़ सकती है। यह निर्भर करता है कि आप किस प्रकार की जांच करवाते हैं। क्योंकि DNA के 1200 प्रकार के जांच किए जाते हैं।

What is the importance of DNA? डीएनए का क्या महत्व है?

डीएनए का मेडिकल के क्षेत्र मे बहुत अधिक महत्व होता है। समय के साथ- साथ डीएनए मे बहुत से प्रयोग हुए हैं जिससे वर्तमान समय मे मेडिकल के अलावा कृषि के क्षेत्र मे, फॉरेंसिक जांच, और कानूनी क्षेत्र मे भी डीएनए का काफी उपयोग होने लगा है। इसलिए बहुत से कानूनी मामलों को सुलझाने मे भी DNA बहुत महत्वपूर्ण होता है।

DNA की जाँच के माध्यम से यह सुनिश्चित किया जा सकता है कि किसी व्यक्ति का पिता कौन है या फिर संबंधित व्यक्ति के साथ भाई, बहन आदि कोई रिश्ता है या नही। कृषि के क्षेत्र मे अधिक रोग प्रतिरोधक क्षमता व अच्छे प्रजनन वाले जीवों की पहचान करने के लिए भी इसका उपयोग किया जाता है। इसके साथ- साथ DNA टेस्ट की मदद से आनुवांशिक बीमारी का पता लगाकर उनकी अगली पीढ़ी को इस बीमारी से रोकथाम के लिए भी प्रयास किए जाते हैं।

FAQ – full form of DNA in Hindi


What is DNA in full words? – पूर्ण शब्दों में डीएनए क्या है?

डीएनए अणु का रासायनिक नाम है जो सभी जीवित चीजों में आनुवंशिक निर्देश देता है । डीएनए अणु में दो किस्में होती हैं जो एक दूसरे के चारों ओर हवा देती हैं जो एक डबल हेलिक्स के रूप में जाना जाता है

What is the full form of DNA and RNA? – डीएनए और आरएनए का पूर्ण रूप क्या है?

डीऑक्सीराइबोन्यूक्लिक एसिड (डीएनए) और राइबोन्यूक्लिक एसिड (आरएनए) कोशिका जीव विज्ञान में सबसे महत्वपूर्ण अणु हैं, जो आनुवंशिक जानकारी के भंडारण और पढ़ने के लिए जिम्मेदार हैं जो सभी जीवन को रेखांकित करते हैं ।

Where Is DNA Found? – डीएनए कहां पाया जाता है?

अधिकांश डीएनए कोशिका नाभिक (जहां इसे परमाणु डीएनए कहा जाता है) में स्थित होता है, लेकिन माइटोकॉन्ड्रिया (जहां इसे माइटोकॉन्ड्रियल डीएनए या एमटीडीएनए कहा जाता है) में डीएनए की एक छोटी मात्रा भी पाई जा सकती है ।

How much DNA is in a human? – एक मानव में कितना डीएनए है?

हमारे शरीर की रचना करने वाली अरबों कोशिकाओं में से, न्यूरॉन्स से जो पूरे मस्तिष्क में संकेतों को रिले करते हैं, प्रतिरक्षा कोशिकाओं को जो हमारे शरीर को निरंतर बाहरी हमले से बचाने में मदद करते हैं, लगभग हर एक में समान 3 बिलियन डीएनए बेस जोड़े होते हैं जो मानव जीनोम बनाते हैं

What is DNA important? – डीएनए क्यों महत्वपूर्ण है?

डीएनए हमारे विकास, प्रजनन और स्वास्थ्य के लिए महत्वपूर्ण है । इसमें आपकी कोशिकाओं के लिए प्रोटीन का उत्पादन करने के लिए आवश्यक निर्देश शामिल हैं जो आपके शरीर में कई अलग-अलग प्रक्रियाओं और कार्यों को प्रभावित करते हैं । क्योंकि डीएनए इतना महत्वपूर्ण है, क्षति या उत्परिवर्तन कभी-कभी बीमारी के विकास में योगदान कर सकते हैं

DNA full form in computer

कंप्यूटर में डीएनए का फुल फॉर्म The biocompatible computing device: Deoxyribonucleic acid (DNA) होता है

RNA full form

RNA का फुल फॉर्म Ribonucleic acid होता है

What is the shape of DNA

डबल हेलिक्स एक डबल-फंसे डीएनए अणु के आणविक आकार का वर्णन है । 1953 में, फ्रांसिस क्रिक और जेम्स वाटसन ने पहली बार डीएनए की आणविक संरचना का वर्णन किया, जिसे उन्होंने नेचर पत्रिका में “डबल हेलिक्स” कहा।

निष्कर्ष- इस लेख मे हमने डीएनए से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी देने की कोशिश की है। जिसके माध्यम से हमारे डीएनए से जुड़े बहुत से सवाल हल हो जाते हैं। हमने जाना की डीएनए का फुल फॉर्म होता है “डीऑक्सीराइबो न्यूक्लिक अम्ल” Deoxyribo Nucleic Acid और इसके साथ- साथ इसकी उत्पत्ति और खोज करता के बारे मे भी जाना है डीएनए टेस्ट हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण हो सकता है यह भी हमने जाना।

इसके माध्यम से बहुत से कानूनी मामलों को भी सुलझाने मे मदद मिलती है इस नज़रिए से देखा जाए तो भी या एक बहुत ही बड़ी उपलब्धि है। इसके साथ ही वर्तमान समय मे कृषि क्षेत्र मे भी डीएनए का महत्व बढ़ता जा रहा है इससे कीट प्रतिरोधक और जीव जंतु और बैक्टीरिया आदि के बारे मे भी जानकारी मिलती है। तथा इससे आनुवांशिकता की समस्याओं का भी पता लगाया जा सकता है इसलिए डीएनए का बहुत महत्व है।

Reference-
2020, DNA, विकिपीडिया

Leave a Comment