NGO Full Form in Hindi | एनजीओ का फुल फॉर्म क्या होता है | full form of NGO in Hindi | NGO meaning in Hindi | NGO ka full form kya hai | एन जी ओ का मतलब क्या होता है

Table Of Contents
show

NGO Full Form in Hindi | एनजीओ का फुल फॉर्म क्या होता है | full form of NGO in Hindi | NGO meaning in Hindi | NGO ka full form kya hai | एन जी ओ का मतलब क्या होता है?, एनजीओ का पूरा रूप क्या है?, एनजीओ द्वारा किए गए कुछ प्रमुख काम। major work done by NGOs | एनजीओ का कार्य क्या है?, एनजीओ कैसे शुरू करें?


आम तौर पर आम नागरिक समाज को बेहतर बनाने के लिए इस तरह के संगठन की स्थापना करते हैं। जरूरत के अनुसार समुदाय आधारित, शहर स्तर, राष्ट्रीय स्तर या अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी इसका आयोजन किया जाता है । एनजीओ ह्यूमन राइट इश्यू, एजुकेशन, हेल्थ, एनवायरमेंट से जुड़े मुद्दे पर काम कर रहे हैं।

यहाँ पढ़ें : NSS Full Form in Hindi | एनएसएस का फुल फॉर्म क्या होता है

NGO Full Form in Hindi | एनजीओ का फुल फॉर्म क्या होता है | full form of NGO in Hindi

NGO Full Form in English Non Government Organization
NGO Full Form in Hindi गैर सरकारी संगठन
NGO Full Form in Hindi

एनजीओ का पूरा रूप क्या है? | NGO meaning in Hindi

एनजीओ का पूरा रूप गैर सरकारी संगठन है । एनजीओ सामाजिक संरचना, बच्चों, गरीबों, पर्यावरण आदि के मुद्दे को ठीक करने के लिए स्थापित व्यक्तियों का कोई भी गैर-लाभकारी, स्वैच्छिक समूह है । एनजीओ सामाजिक आर्थिक सुधार और सशक्तिकरण के लिए काम करते हैं । एनजीओ न तो कोई गैर-सरकारी संगठन है, न ही कोई सामान्य राजस्व निगम ।

एनजीओ को एनपीओ (गैर-लाभकारी संगठन) के नाम से भी जाना जाता है । इसे पड़ोस, शहर, राष्ट्रीय या अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर समन्वित किया जा सकता है । गैर सरकारी संगठन किसी के द्वारा संचालित नहीं होते हैं और इस तरह के वितरण द्वारा आय या लाभ आवंटित करने में असमर्थ होते हैं । वे अपने संचालन से जो भी पैसा प्राप्त कर सकते हैं, उसे वापस निवेश किया जाएगा या उपयुक्त गैर-लाभकारी कार्यक्रमों में निवेश किया जाएगा।

यहाँ पढ़ें : ABVP Full Form in Hindi | एबीवीपी का फुल फॉर्म क्या होता है

NGO full form in Hindi | NGO ka full form | NGO full form | NGO basic details- full form

NGO Full Form in Hindi

यहाँ पढ़ें : RSS Full Form in Hindi | आरएसएस का फुल फॉर्म क्या होता है

एनजीओ के बारे में | About NGOs | एन जी ओ का मतलब क्या होता है?

एनजीओ की विभिन्न व्याख्याएं हैं, इस शब्द को आम तौर पर गैर-लाभकारी, निजी संगठनों को शामिल करने के लिए स्वीकार किया जाता है जो सरकारी नियंत्रण से बाहर काम करते हैं । कुछ गैर सरकारी संगठन मुख्य रूप से स्वयंसेवकों पर भरोसा करते हैं, जबकि अन्य एक भुगतान किए गए कर्मचारियों का समर्थन करते हैं । विश्व बैंक एनजीओ के दो व्यापक समूहों की पहचान करता है:

परिचालन गैर सरकारी संगठन, जो विकास परियोजनाओं के डिजाइन और कार्यान्वयन पर ध्यान केंद्रित करते हैं। वकालत गैर सरकारी संगठन, जो किसी विशिष्ट कारण का बचाव या प्रचार करते हैं और सार्वजनिक नीति को प्रभावित करना चाहते हैं

एनजीओ द्वारा किए गए कुछ प्रमुख काम। major work done by NGOs | एनजीओ का कार्य क्या है?

गैर सरकारी संगठन द्वारा किए जाने वाले निम्न कार्य इस प्रकार हैं

  • गरीबों को विभिन्न तरीकों से मदद करना ।
  • लोगों को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक करना
  • स्वास्थ्य के क्षेत्र में विभिन्न प्रकार के काम, जैसे महामारी के समय में लोगों की मदद करना, किसी भी तरह की बीमारी में लोगों की मदद करना आदि ।
  • शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न प्रकार के काम, जैसे गरीब छात्रों को वित्तीय सहायता, धर्मार्थ स्कूलों और कॉलेजों को वित्तीय सहायता ।
  • महिलाओं के लिए विभिन्न तरीकों से मदद, जैसे कि उनके अधिकारों की रक्षा, वित्तीय मदद, कानूनी मदद आदि ।
  • वित्तीय, शारीरिक और अन्य जैसे विभिन्न तरीकों से बुजुर्ग लोगों की मदद करें
  • बच्चों के स्वास्थ्य और सुरक्षा के लिए विभिन्न प्रकार के काम, जैसे कि बच्चों का टीकाकरण, अनाथों का समर्थन, खोए हुए बच्चों का आश्रय आदि ।

यहाँ पढ़ें : OTT Full Form in Hindi | ओटीटी का फुल फॉर्म क्या होता है

लोकप्रिय एनजीओ | Top NGO in India | भारत के प्रमुख NGO | NGO के नाम

उदय फाउंडेशनUday Foundation
करमायोगKarmayog
गूंजGoonj
स्माइल फाउंडेशनSmile Foundation
अक्षय  विश्वासAkshya Trust
प्रथमPratham
दिपाल्यDeepalaya
हेल्पएज इंडियाHelpAge India
सरगंम संस्थाSargam Sanstha
उदय वेलफेयर फाउंडेशनUdaan Welfare Foundation
सम्मान फाउंडेशनSammaan Foundation
लेपरा समाजLEPRA Society and so on.

यहाँ पढ़ें : OYO Full Form in Hindi | ओयो का फुल फॉर्म क्या होता है

गैर सरकारी संगठन के पंजीकरण संबंधित कानून | Ngo कैसे रजिस्ट्रेशन करे

गैर सरकारी संगठन के पंजीकरण के लिए कुछ कानून बनाए गए हैं जिनका आपको पालन करना होता है, एनजीओ का पंजीकरण तीन अधिनियमो के तहत करवाया जाता है –

भारतीय न्यास अधिनियम 1982
सोसाइटी पंजीकरण अधिनियम 1860
कंपनी अधिनियम 2013  

एनजीओ कैसे शुरू करें? | How to start NGO

NGO Full Form in Hindi
NGO Full Form in Hindi

किसी भी तरह का एनजीओ शुरू करने के लिए, आपको सबसे पहले यह तय करना होगा कि आप किस क्षेत्र में एनजीओ शुरू कर रहे हैं, आप अपने एनजीओ के तहत लोगों को किस तरह की सेवाएं देंगे, और फिर आपको अपने एनजीओ का नाम नामित करना होगा और एनजीओ को रजिस्ट्रार ऑफ कंपनीज के साथ पंजीकृत करना होगा ।

यहाँ पढ़ें : अल्फाबेट के अनुसार दुनिया के सभी फुल फॉर्म

एनजीओ कितने प्रकार के होते हैं?

एनजीओ का पंजीकरण निम्नलिखित तीन रूपों में से किसी एक में किया जा सकता है।

  • ट्रस्ट अधिनियम
  • सोसायटी अधिनियम
  • कंपनी अधिनियम

जब भी कोई एनजीओ रजिस्टर्ड होता है तो यह भी बताना जरूरी होता है कि उसका संचालन किस स्तर पर किया जाएगा। क्योंकि एनजीओ किस श्रेणी में पंजीकृत है, कार्य क्षेत्र उस पर निर्भर करेगा, जैसे कि एक समुदाय में ही काम कर सकता है, जबकि दूसरे प्रकार के एनजीओ पूरे राज्य में काम कर सकते हैं।

एनजीओ से जुड़ी सरकार की नीति

एनजीओ नियम और शर्त स्वैच्छिक संगठनों (वीओ) के तहत कवर किए जाते हैं । इस नीतियों के तहत गैर सरकारी संगठनों को निम्नलिखित विशेषताओं का पालन करना चाहिए ।

  • वे निजी हैं, (सरकार से अलग होना चाहिए)
  • यह उनके मालिकों या निदेशकों को उत्पन्न लाभ वापस नहीं करता है
  • वीओएस स्वशासी हैं, (सरकार द्वारा नियंत्रित नहीं किया जाना चाहिए)
  • गैर सरकारी संगठन पंजीकृत संगठन या अनौपचारिक समूह हैं, जिनमें परिभाषित उद्देश्य हैं

एनजीओ को बनाए रखने के लिए मानक राजस्व स्रोत

  • बहुपक्षीय संगठन से अनुदान
  • एकतरफा एजेंसियों से फंडिंग
  • सदस्यता शुल्क
  • लाभांश और निवेश पर ब्याज
  • विविध स्रोत
  • दान

इंटरनेशनल में टॉप 5 एनजीओ

  • हिंसा का इलाज – दुनिया में दो समुदायों के बीच हिंसा और संघर्ष के प्रसार को रोकने के मुख्य उद्देश्य से इस एनजीओ की शुरुआत की गई थी।
  • देखभाल – सबसे पुराना और प्रमुख एनजीओ केयर 1945 मे गठित किया गया था। मुख्य मोटो सामाजिक न्याय, शिक्षा, चिकित्सा राहत में सुधार करने के लिए। वे संस्कृति, स्वास्थ्य सेवा, स्वच्छता आदि भी प्रदान करते हैं।
  • स्वास्थ्य में भागीदार – यह एनजीओ यह सुनिश्चित करने की कोशिश करता है कि अच्छा स्वास्थ्य हर किसी के लिए सही हो ।
  • BRAC – एक अन्य प्रमुख गैर सरकारी संगठन BRAC मुख्य रूप से बांग्लादेश सहित 11 देशो में काम करते हैं । इनका मुख्य मोटो `गरीब लोगों के उत्थान के लिए और वहाँ विभिन्न अवसरों का निर्माण करना करना है।
  • दया वाहिनी – इस एनजीओ की स्थापना 1971 में हुई थी । तब से वे भोजन, चिकित्सा, पोशाक आदि प्रदान करके उन लोगों की मदद कर रहे हैं जो मानव निर्मित और प्राकृतिक आपदा का शिकार हैं

कार्य स्तर के अनुसार कुछ प्रकार के एनजीओ निम्नलिखित हैं-

  • समुदाय आधारित -ऐसा एनजीओ एक समुदाय के भीतर विभिन्न तरीकों से गरीबों की मदद कर सकता है, और उन्हें अपने अधिकारों के बारे में बता सकता है।
  • राज्य स्तरीय – राज्य स्तरीय एनजीओ पूरे राज्य में काम कर सकते हैं और विभिन्न संगठनों, संघों, समूहों को एक साथ ले सकते हैं ।
  • राष्ट्रीय स्तर – राष्ट्रीय स्तर के गैर सरकारी संगठनों को देश भर में काम करने का अधिकार है और विभिन्न राज्यों और शहरों में इसकी शाखाएं हो सकती हैं ।
  • अंतर्राष्ट्रीय स्तर – अंतर्राष्ट्रीय स्तर के एनजीओ पूरी दुनिया में काम करते हैं और आर्थिक और अन्य संसाधनों के साथ कई राष्ट्रीय और राज्य स्तरीय एनजीओ की भी मदद करते हैं।

सरकार द्वारा किसी भी स्तर पर किसी भी तरह का एनजीओ चलाने के लिए दिशा-निर्देश दिए गए हैं और इसका पूरी तरह पालन करना बहुत जरूरी है।

FAQ – NGO full form in Hindi


NGO में कौन कौन से पद होते है? | एनजीओ में कितने पद होते हैं?

एनजीओ यानी चैरिटेबल ट्रस्ट में कम से कम दो व्यक्ति सदस्य के रूप में आवश्यक हैं, अधिकतम सदस्यों की कोई सीमा नहीं है

NGO से आप क्या समझते है?

यह एक गैर-सरकारी संघटन है जिसे समाज के ऐसे लोग जिनके पास अच्छा पैसा होता है वे मिलकर बनाते है।

गैर सरकारी संगठन से आप क्या समझते हैं?

गैर सरकारी संगठन किसी सार्वजनिक उद्देश्य को लक्षित होते हैं। गैर सरकारी संस्थाओं को विदेशी धन प्राप्त करने के लिये एफसीआरए, 2010 के अंतर्गत पंजीकृत होना पड़ता है भारत में गैर सरकारी संगठनों की गतिविधियों पर नियंत्रण के लिये कोई एक विशेष कानून अथवा कोई शीर्ष संगठन नहीं है।

NGO Full Form in medical

एनजीओ का मेडिकल मे फुल फॉर्म Neisseria GOnorrhoeae होता है

NGO में सरकारी कर्मचारी रह सकते हैं क्या?

सरकारी कर्मचारी या सार्वजनिक क्षेत्र के कर्मचारी एनजीओ के सदस्य हो सकते है, लेकिन वह गैर सरकारी संगठन से किसी भी प्रकार का वेतन या कोई लाभ नहीं ले सकता है।

एनजीओ की स्थापना कब हुई?

एनजीओ की स्थापना 17 अप्रैल 2010 को मिली थी। इस संगठन से जुड़े लोग जरूरतमंदो और जीवों की मदद करते हैं। 27 फरवरी 2014 को पहली बार विश्व एनजीओ दिवस मनाया गया था

reference-
NGO Full Form in Hindi, wikipedia

Leave a Comment