गुरू पूर्णिमा | Guru Purnima | गुरू पूर्णिमा का महत्व

गुरू पूर्णिमा, Guru Purnima, गुरु पूर्णिमा का महत्व पर निबंध, गुरु पूर्णिमा क्यों मनाई जाती है, गुरु पूर्णिमा 2024, गुरु पूर्णिमा कब मनाई जाती है, गुरु पूर्णिमा का अर्थ, गुरु पूर्णिमा की कथा, बुद्ध पूर्णिमा का महत्व, बुद्ध जयन्ती

Guru Purnima : ऐसे करें गुरु पूर्णिमा की पूजा, जानिए क्या मिलेंगे लाभ | Hare Krsna TV

Guru Purnima

यहाँ पढें : सोमवती अमावस्या का महत्व

गुरू पूर्णिमा | Guru Purnima | गुरू पूर्णिमा का महत्व

गुरु पूर्णिमा त्यौहार हिंदुओं, जैनियों और बौद्धों द्वारा अपने शिक्षकों को सम्मान देने के लिए मनाया जाता है। और शिक्षकों को सनातन धर्म शब्दावली के अनुसार गुरु कहा जाता है। इस दिन महाभारत के रचयिता वेद व्यास के जन्म दिवस होने के कारण, गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा भी कहा जाता है।

बौद्ध धर्म के अनुयायी गौतम बुद्ध द्वारा सारनाथ में दिए गये पहिले उपदेश के सम्मान में गुरु पूर्णिमा पर्व मानते हैं। सदगुरु के अनुसार: गुरु पूर्णिमा वह दिवस है जब पहली बार आदियोगी अर्थात भगवान शिव ने सप्तऋषियों को योग का ज्ञान देकर खुद को आदि गुरु के रूप में स्थापित किया।

सिख धर्म में केवल एक ईश्वर, और अपने दस गुरुओं की वाणी को ही जीवन के वास्तविक सत्य के रूप में मानते है। सिख धर्म का एक प्रचलित कहावत रूपी दोहा निम्न प्रकार से है:

Guru Purnima
Guru Purnima

गुरु गोविंद दोऊ खड़े काके लागु पाँव, बलिहारी गुरु आपने गोविंद दियो बताए॥

भारतीय शास्त्रीय संगीत और नृत्य के छात्र भी इस पवित्र त्यौहार को बड़े धूम-धाम से मनाते हैं। स्कूली छात्र-छात्राएँ गुरु वंदना व उपहारों से अपने शिक्षकों का सम्मान करते हैं, तथा उनके ऋणी होने का एहसास कराते हैं। जैन धर्म के अनुसार, यह दिन चौमासा अर्थात चार महीने के बरसात के मौसम की शुरुआत के रूप में और त्रीनोक गुहा पूर्णिमा के रूप में मानते हैं।

गुरुर्ब्रह्मा ग्रुरुर्विष्णुः गुरुर्देवो महेश्वरः ।
गुरुः साक्षात् परं ब्रह्म तस्मै श्री गुरवे नमः ॥

हिन्दी भावार्थ: गुरु ब्रह्मा है, गुरु विष्णु है, गुरु ही शंकर है; गुरु हि साक्षात् परब्रह्म है; उन सद्गुरु को प्रणाम ।

गुरु गूंगे गुरु बाबरे गुरु के रहिये दास,
गुरु जो भेजे नरक को, स्वर्ग कि रखिये आस!

माटी से मूरत गढ़े, सद्गुरु फूके प्राण ।
कर अपूर्ण को पूर्ण गुरु, भव से देता त्राण ॥

FAQ – Guru Purnima

गुरु पूर्णिमा कब और क्यों मनाया जाता है?

हिंदुओ की परंपरा के मुताबिक आषाढ़ के शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को गुरु पूर्णिमा का पर्व मनाया जाता है

गुरु पूर्णिमा पर किसकी पूजा की जाती है?

इस दिन महर्षि वेद व्यास का जन्म हुआ था इसलिए इसे व्यास पूर्णिमा भी कहा जाता है. इस दिन शिष्य अपने गुरु की विशेष पूजा करता है

गुरु पूर्णिमा को हिंदी में क्या कहते हैं?

इस दिन महाभारत के रचयिता वेद व्यास जी का जन्मदिन भी है। उनके सम्मान में गुरु पूर्णिमा को व्यास पूर्णिमा भी कहा जाता है।

Reference
Guru Purnima

मेरा नाम सविता मित्तल है। मैं एक लेखक (content writer) हूँ। मेैं हिंदी और अंग्रेजी भाषा मे लिखने के साथ-साथ एक एसईओ (SEO) के पद पर भी काम करती हूँ। मैंने अभी तक कई विषयों पर आर्टिकल लिखे हैं जैसे- स्किन केयर, हेयर केयर, योगा । मुझे लिखना बहुत पसंद हैं।

Leave a Comment