in ,

Yoga for EyeSight in Hindi – आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए योगा

आँखें हमारे शरीर का सबसे अहम अंग होती हैं। आँखो की वजह से ही हम इस खूबसूरत दुनिया को देख सकते हैं। अगर आपकी आँखें स्वस्थ नही रहती तो वो कमज़ोर हो जाती हैं और चश्मे चड़ जाते हैं। बड़ती उम्र के साथ आँखें कमज़ोर होना एक अलग बात है, लेकिन आजकल तो कम उम्र के बच्चों मे भी यह समस्या एक आम बात हो गई है।

आपकी आँखों के कमज़ोर होने का प्रमुख कारण मासपेशियों का ढीला हो जाना है। सारा दिन कंप्यूटर पर काम करने के बाद और फिर मोबाइल चलाने से आँखें थक जाती हैं। इससे आँखों की मासपेशियां कमज़ोर हो जाती हैं। जिससे बैक्टीरिया, इंफेक्शन आँखो से पानी आना, थोड़ी देर मोबाइल देखने से आँखें लाल होना और दृष्टि दोष आदि। अगर इन मासपेशियों को स्वस्थ रखा जाए तो आपकी आंखे कमज़ोर नही होती हैं। इसलिए आप

योग के माध्यम से अपनी आँखों को स्वस्थ रख सकते हैं। योग करके आप अपनी आँखों की रोशनी को कम होने से रोक सकते हैं।योगा करने से आपकी निकट दृष्टि दोष और दूर दृष्टि दोष दोनो ठीक हो सकते हैं। इसलिए रोज़ाना आधे से एक घंटे तक योगा करनी चाहिए इससे आपके शरीर की अन्य बीमारी से निजात मिलती है। योग आपके जीवन को एक नई ऊर्जा देता है।

Yoga for healthy Eyes -आँखो को स्वस्थ रखने के लिए योग

आँखो की मासपेशियों को मजबूत बनाए रखने के लिए हम आपको नीचे कुछ (Yoga for EyeSight in Hindi) आसन बता रहे हैं जिनको नियमित रुप से करके आप अपनी आँखो को तेज कर सकते हैं।

यहाँ पढ़ें : अच्छी और बेहतर नींद के लिए योग

Yoga for EyeSight in Hindi

अगर आप अपनी आँखो को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो आपको अपनी पलकों को झपकाना चाहिए। इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों का उपयोग लंबे समय तक करने, मोबाइल चलाने आदि के कारण हम पलकें झपकाना भूल जाते हैं।

1. सबसे पहले किसी स्थान पर आराम से बैठ जाएं।

2. अपनी आँखो को खुला ही रखें।

3. फिर अपनी पलकों को जल्दी- जल्दी कम से कम 10 बार झपकाएं।

4. इसके बाद अपनी सांसो को सामान्य रखें और लगभग 20 सेकेंड तक आराम करें।

5. अब पुन: इसी प्रक्रिया को दोबारा दोहराए। इस आसन को 5 बार कर सकते हैं।

2. Palming yoga for increasing eyesight in Hindi – आँखो की रोशनी बढ़ाने के लिए हाथों से आँखो को गर्म करें

Yoga for EyeSight in Hindi

आँखो को स्वस्थ रखने और इनकी रोशनी बढ़ाने के लिए पॉल्मिग एक बहुत ही अच्छा योगासन है। इसे करने के लिए

1. यह आसन करने के लिए सबसे पहले एक शांत जगह पर बैठ जाएं। इसके लिए आप पद्मासन या सुखासन मे बैठ सकते हैं।

2. अब अपनी आँखे बंद करें और कुछ देर तक गहरी सांसे लें।

3. अब अपने दोनो हाथों की हथेलियों को आपस मे 10 से 15 सेकेंड तक या गर्म होने तक रगड़े।

4. जब आपकी हथेलिया गर्म हो जाएं तब इन्हे धीरे से अपनी आँखो के उपर रखें।

5. जब आपके हाथों की उष्मा आँखो तक पहुँच जाएं तब अपने हाथों को हटा सकते हैं।

6. इस प्रक्रिया को आप कम से कम तीन से चार बार तक दोहराए। 

3. Sarvangasana yoga for increasing eyesight -आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए सर्वांगासन

Yoga for EyeSight in Hindi - आँखों की रोशनी बढ़ाने के लिए योगा

आँखों की सुरक्षा के लिए योग करना बहुत लाभदायक होता है इसके लिए आप सर्वांगासन कर सकते हैं ये आपकी आँखो की रोशनी को बढ़ाने मे भी मदद करता है।

1. इस आसन को करने के लिए पीठ के बल लेट जाएं।

2. अपने दोनो हाथों को धड़ के बगल मे रखें और हथेलियां नीचे रखें।

3. अपने हाथों से अपनी कमर को सहारा दें।

4. इस स्थिति मे सीधा रहना है और अपना वजन अपने कंधो पर रखना है।

5. अब सांस को छोड़ते हुए धीरे- धीरे कमर और पैरों को नीचे लाएं।

यहाँ पढ़ें : सिरदर्द के लिए योग: आयुर्वेद के दृष्टिकोण से

4. Tratkasana for increasing eyesight -आँखों के लिए त्राटकासन

Yoga for EyeSight in Hindi

अगर आप अपनी आँखो को स्वस्थ रखना चाहते हैं तो आपको इसके लिए योगा करना चाहिए इससे आपकी आँखों की मासपेशियां मजबूत रहती हैं और उनकी रोशनी भी बनी रहती है। आँखो के लिए आप त्राटकासन कर सकते हैं यह एक बहुत ही उपयोगी आसन है इससे आपकी आँखो की रोशनी तेज होती है।

त्राटकासन करने के लिए

1. त्राटकासन को जहां तक संभव हो रात मे करना चाहिए। लेकिन आप इस आसन को सुबह भी कर सकते हैं।  

2.अगर आप दिन मे इस आसन को करते हैं तो इसे करने से पहले अपने कमरे की लाइट बंद करके कमरे मे अंधेरा कर लें। और सिर्फ एक केंडल जला कर प्राणायाम की मुद्रा मे बैठ जाए

3. अब बिना अपनी पलकें झपकाए इस जलती केंडल को देखते रहें।

4.  इसके बाद अपनी आँखों को बंद करके ऊँ का मध्यम आवाज़ मे उच्चारण करें।

5. कुछ समय तक ऐसा करने के बाद अपने हाथों की हथेलियों को आपस मे रगड़े और हल्की गर्म हथेलियों को आँखों पर स्पर्श करने के बाद धीरे- धीरे अपनी आँखें खोले।

6. इस आसन का अभ्यास कम से कम तीन बार करें।

5. Front and sideways viewing yoga -आँखो की रोशनी बढ़ाने के लिए सामने और साइड मे देखें

  1. अपने पैरों को सामने की तरफ फैला कर बैठ जाएं।

2.  अब अपने दोनो हाथों को सामने की तरफ घुटनों पर रखें।

3.  बाएं हाथ की मुठ्ठी बंद करके अँगूठे को उपर की ओर करें।

4. अब सांस को बाहर छोड़ते हुए अपनी दृष्टि को अँगूठे पर बना कर रखें

5. अब सांस अंदर लें और साइड मे देखें।

6. अब यही दूसरे हाथ से दोहराएं। 5-5 बार करने के बाद आँखो को बंद करके आराम करें।

6. Pranayama for increasing eyesight -आँखो की रोशनी बढ़ाने के लिए करें प्राणायाम

Yoga for EyeSight in Hindi

प्राणायाम एक बहुत ही अच्छा आसन है इसे आपको नियमित रुप से करना चाहिए इसे करने से आपका शरीर स्वस्थ रहता है आपका श्वास भी अच्छे से काम करता है और इससे आपकी आँखों की रोशनी भी बढ़ती है।

1. इस योग को करने के लिए पद्धासन मे बैठ जाएं।

2. इसके बाद अपने दाहिने हाथ की अनामिका या छोटी उँगली से बाई नासिका को बंद करें। और दाहिने नाक से सांस लें।

3. अब अपनी दाहिनी नासिका को अँगूठे से बंद करें और दूसरी नासिका से सांस लें।

4. अब अपनी ठुड्डी को सीने के पास दबाएं और फिर कुछ देर तक सांस को रोकने की कोशिश करें।

5. इसी प्रक्रिया को 5 से 7 बार तक दोहराए।

7. Rotational viewing for increasing eyesight- आँखो को घुमाते हुए देखें

आँखो की बीमारियों को दूर करने के लिए आँखो को चारो और घुमाते हुए एक स्थान पर अपनी दृष्टि को केंद्रित करें।

1. सबसे पहले किसी भी शांत स्थान पर अपने दोनो पैरों को फैला कर बैठ जाए।

2. अपने दोनो हाथों को सीधा यानी दोनो घुटनो पर रखें।

3. अब अपने दाएं हाथ की मुठ्ठी बनाएं और अँगूठे को उपर की तरफ रखें।

4. अपने दाएं हाथ को उपर की तरफ करें।

5. अब अपनी मुठ्ठी के अँगूठे पर अपनी दृष्टि को केंद्रित करें।

6. अपने हाथों को वृताकार घुमा कर एक गोला बनाएं और यह करते समय अपनी दृष्टि को अपने अँगूठे पर बनाए रखें।

7. इस योगा को घड़ी की दिशा और उसके विपरीत दिशा मे 5-5 बार दोहराएं।

8. अब अपने हाथ को नीचे करके मुठ्ठी को खोल दें। और दूसरे हाथ की मुठ्ठी बना कर इस प्रक्रिया को पुन: दोहराएं।

8. Near and distant viewing yoga आँखो की रोशनी बढ़ाने के लिए पास और दूर देखना

अपनी आँखो के निकट और दूर दृष्टि के दोष से छुटकारा पाने के लिए इस योग को करें

1.  इस योग के लिए आप खुले स्थान या खिड़की के पास बैठ जाएं।

2.  अपने सर को सीधा और दोनों हाथों को अपनी गोद मे रखें।

3.  अब लगभग 5 से 10 सेकेंड तक एक फोकल बिंदु पर नज़र डालें। और फिर सांस छोड़े।

4.  अब अपनी नाक की नोक पर लगभग 5 से 10 सेकेंड तक देखें। और सांस अंदर लें।

5. इस प्रक्रिया का कम से कम 10 से 15 बार अभ्यास करें।

6.  अब कुछ देर अपनी आँखो को बंद करके कुछ देर तक आराम करें।

यहाँ पढ़ें : थायराइड के लिए योगासन

9. Up and down viewing yoga- आँखो के लिए योगा, आँखे उपर नीचे करें

  1. अपने पैरों को आगे की तरफ फैला कर बैठ जाएं।

2.  अब अपने सिर और रीढ़ की हड्डी को सीधा ही रखें।

3.  अपने हाथों को घुटनो के उपर रखें।

4.  अब हाथों की मुठ्ठी बना कर अंगूठों को उपर की ओर रखें।

5.  अब दाएं हाथ के अँगूठे को उपर उठाएं और दृष्टि इसी पर बना कर रखें।

6.  अब हाथ को धीरे- धीरे नीचे की तरफ लाएं।

7.  अब यही प्रक्रिया दूसरे हाथ के साथ भी दोहराएं।

8.  यह आसन दोनो हाथों से 5- 5 बार करें फिर आँखे बंद करके आराम करें।

विशेष- आँखो के लिए योग करने से पहले याद रखें कि आप अपनी आँखो को ठंडे पानी से धो लें। इसके अलावा अपने शरीर की रीढ़ की हड्डी और सिर को एकदम सीधा रखें।

Reference

Written by savita mittal

मेरा नाम सविता मित्तल है। मैं एक लेखक (content writer) हूँ। मेैं हिंदी और अंग्रेजी भाषा मे लिखने के साथ-साथ एक एसईओ (SEO) के पद पर भी काम करती हूँ। मैंने अभी तक कई विषयों पर आर्टिकल लिखे हैं जैसे- स्किन केयर, हेयर केयर, योगा । मुझे लिखना बहुत पसंद हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 best Beaches to visit in Goa- गोवा में घूमने वाले 9 बेहतरीन समुद्रतट

Yoga for kids in Hindi- बच्चों के विकास के लिए योगा