वफादार नेवला पंचतंत्र की कहानी | wafadar nevla Panchtantra ki kahani in Hindi

वफादार नेवला | Hindi kahaniya | Panchatantra Moral Stories || Cartoon Fairy tales

wafadar nevla Panchtantra ki kahani

यहाँ पढ़ें : vishnu sharma ki 101 panchtantra kahaniyan in hindi

वफादार नेवला पंचतंत्र की कहानी | wafadar nevla Panchtantra ki kahani in Hindi

एक गांव में एक किसान अपनी पत्नी और अपने नवजात शिशु के साथ रहता था। एक दिन किसान को एक अनाथ नेवले का बच्चा मिला। वह उसे अपने घर ले आया।

किसान उस नेवले को पालने लगा पर किसान की पत्नी को नेवले पर पूरा विश्वास नहीं था।

कुछ दिनों बाद, किसान की पत्नी कुएं से पानी लाने के लिए गई। नेवला किसान के बच्चे की रक्षा कर रहा था। तभी उसने देखा कि एक सांप बच्चे की ओर बढ़ रहा है।

wafadar nevla Panchtantra ki kahani
wafadar nevla Panchtantra ki kahani

नेवला सांप से लड़ पड़ा और सांप को मार दिया। जब किसान की पत्नी घर लौटी तो उसने देखा कि नेवले के मुंह पर खून लगा हुआ है। उसने सोचा कि नेवले ने उसके बच्चे को काट लिया है।

उसने लाठी से नेवले को पीटना शुरू कर दिया। चोट के कारण नेवला मर गया। जब किसान की पत्नी अंदर गई तो उसने देखा कि उसका बच्चा सुरक्षित है और फर्श पर एक सांप मरा पड़ा है।

वह समझ गई की नेवला सांप से बच्चे की रक्षा कर रहा था और उसके मुंह पर सांप का खून था।

लेकिन अब वह नेवले को मारने का पछतावा करने के सिवा कुछ भी नहीं कर सकती थी।

नैतिक शिक्षा :– उतावलेपन में कोई कदम नहीं उठाना चाहिए।

Leave a Comment