Rapunzel Story In Hindi | रॅपन्ज़ेल की कहानी | Disney princess Rapunzel Ki Kahani, nanhi kahaniyan

रॅपन्ज़ेल | हिंदी कहानी | Rapunzel & Little Mermaid Kids Story | Rapunzel Songs | Bedtime Stories

Rapunzel Story In Hindi

Rapunzel Story In Hindi | रॅपन्ज़ेल की कहानी

एक बार की बात है, एक राजा अपने महल में अपनी रानी के साथ खुशी से रहता था। रानी गर्भवती थी, वह कुछ भी खाती तो उसे पसंद नही आता। उसका कुछ अलग खाने का मन करता था। एक बार वह राजा के साथ महल के छत पर बैठी थी तभी गर्भवती रानी ने अपने घर के पास के बगीचे में खिले हुए फूलों को देखा उसने राजा से उन्हे लाने के लिए कहा।

Rapunzel Story In Hindi
Rapunzel Story In Hindi

राजा में रानी को समझाया कि वह जादूगरनी है वह अपने फूल नहीं देगी लेकिन रानी नहीं मानी। राजा ने एक तरकीब सोची और उसे खाने के लिए दूसरे स्वादिष्ट व्यंजन व्यंजन दिए राजा ने रानी को फूल दिलाने के लिए हां कर दी जादूगरनी ने फूल तो दे दिया पर बदले में उसके होने वाले बच्चे को ले गई जादूगरनी ने उसका नाम फूलों के नाम पर रैपुंजल रखा।

जब रैपुंजल बड़ी हुई तो जादूगरनी ने उसे एक ऊंचे मीनार में बंद कर दिया।

मीनार में बस एक खिड़की थी। क्योंकि रैपुंजल रानी की बेटी थी इसीलिए वह बहुत सुंदर थी और उसके बाल भी बहुत अधिक लंबे थे और मजबूत थे जादूगरनी को जब भी किसी काम से बाहर जाना होता तो वह रपुंजल की चोटी के सहारे नीचे उतरती और वापस आने के लिए जब जादूगरनी के पुकारने पर रैपुंजल अपनी छोटी खिड़की से नीचे गिर आती और उसी के सहारे जादूगरनी ऊपर जाया करती थी।

यहाँ पढ़ें : पंचतंत्र की 101 कहानियां – विष्णु शर्मा

रैपअंजेल अपना समय गाना गाकर बिताया करती थी।

एक दिन एक राजकुमार वहां से गुजर रहा था उसने रानी को गाना गाते देखा वह उस पर मोहित हो गया जब जादूगरनी बाहर किसी काम से गई थी तब राजकुमार ने रैपअंजेल को बाल नीचे छोड़ने के लिए कहा और उसी प्रकार रैपुंजल से मिलने जाने लगा।

रानी ने राजा को अपनी पूरी कहानी बता दी कि कैसे जादूगरनी ने उसे उसकी मां से छीन लिया था और अपने कब्जे में कर लिया था उन दोनों को प्यार हो गया और वे दोनों विवाह करना चाहते थे पर किसी प्रकार जादूगरनी को यह बात पता चल गई और वह ऐसा होना नहीं देना चाहती थी।

क्रोधित होकर जादूगरनी ने रैपुंजल के बाल काट दिए और उसे मरुभूमि में छोड़ दिया और राजकुमार को ऊपर से धक्का दे दिया। राजकुमार कांटों पर गिरा और आंख में कांटा सूखने के कारण अपनी दृष्टि को बैठा। घूमते घूमते वह भी मरुभूमि में जा बैठा।

रैपुंजल उसे पहचान गई। जैसे ही रैपुंजल के आंसू राजकुमार की आंखों में गिरे वैसे ही राजकुमार की आंखें वापस आ गई। राजकुमार ने  महल को गिरवा दिया जिसने जादूगरनी ने रपुंजल को रखा था इससे जादूगरनी भस्म हो गई और राजकुमार ने रैपुंजल को अपने माता-पिता से मिलवाया और दोनों ने विवाह कर लिया और खुशी-खुशी अपना जीवन बिताने लगे।

Reference-
14 June 2021, Rapunzel Story In Hindi, wikipedia

Leave a Comment