in ,

भारत में आयुर्वेदीय चिकित्सा उद्योग – Ayurvedic Medical Industry in India

आयुर्वेदिक उत्पाद (Ayurvedic Medical Industry) एक व्यक्तिगत देखभाल और स्वास्थ्य संबंधी उत्पाद हैं जो औषधीय उपचार प्रयोजनों के लिए उपयोग किए जाते हैं। महिलाओं के शिक्षित होने की दर अधिक होने एवं कामकाजी महिलाओं की संख्‍या में वृद्धि होने कारण तथा ब्‍यूटी प्रोडक्‍ट में लगातार रसायनों के बढ़ते दर के कारण महिलयां व्‍यक्तिगत देखभाल के लिये हर्बल सौदर्य प्रसाधन की ओर प्रभावित हो रही हैं । इसलिये आयुर्वेद उत्‍पाद के मांग में दिनोदिन बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है।

आयुर्वेदिक उत्पाद भारत से उत्पन्न हुए हैं और इसलिए देश में आयुर्वेदिक औषधि आपूर्तिकर्ताओं की अच्‍छी-खासी संख्‍या है । आयुर्वेदिक उत्पादों को कम साइड इफेक्ट्स और शरीर में हानिकारक विषाक्त पदार्थों के विषाणु नाशक के रूप में जाना जाता है। 

भारत में 9 हजार से अधिक आयुर्वेदिक दवा उत्‍पादक कंपनी कार्य कर रहे हैं, किन्‍तु इनमें से अधिकतर बहुत ही छोटे स्‍तर पर है । कुछ इतनी छोटी है कि केवल स्‍वयं के लिये उपचार उत्‍पाद बनाते हैं ।  एक अनुमान के अनुसार भारत में आयुर्वेदिक उत्‍पादों का कुल बाजार  एक बिलियन डालर के आसपास है ।

इस बाजार में दशकों से लगभग दर्जन भर कंपनियों का दबदबा बना हुआ है । अभी-अभी इसी दशक में और कुछ कं‍पनियां उभर कर सामने आईं हैं, जिससे एक बिलियन डालर से अधिक के आयुर्वेदिक उत्‍पादों के मांग को पूरा कर रहे हैं । इन कंपनियों के उत्पादों को “फास्ट मूविंग कंज्यूमर गुड्स” श्रेणी के अंतर्गत शामिल किया गया है, जिसमें मुख्‍य रूप से खाद्य पदार्थ एवं पेय पदार्थ को शामिल किया गया है ।

अधिकांश बड़े आयुर्वेदिक दवा आपूर्तिकर्ता कंपनियां आयुर्वेदिक औषधि, दवाओं  के अलावा अन्य सामग्री की भी आपूर्ति करते हैं ।  विशेष रूप से खाद्य पदार्थों के साथ प्रसाधन सामग्री जैसे साबुन, टूथपेस्ट, शैम्पू, आदि । 

आयुर्वेदिक दवाईयों और अन्‍य उत्‍पादों के प्रमुख आपूर्तिकर्ता के रूप में डाबर, वैद्यनाथ, झंडू आयुर्वेद, पतंजलि जैसे कुछ कंपनियां भारतीय बाजार में लगभग 80 प्रतिशत हिस्‍सेदारी रखते हैं । शेष में हजारों अन्‍य छोटी-बड़ी कंपनियां काम कर रहीं हैं ।  भारत के प्रमुख आयुर्वेदिक दवा व अन्‍य आयुर्वेद उत्‍पाद के उत्‍पादक  कंपनियों के बारे में संक्षिप्‍त जानकारी इस आलेख में शामिल किया जा रहा है ।

भारत में आयुर्वेदीय चिकित्सा उद्योग - Ayurvedic Medical Industry in India

डाबर इंडिया लिमिटेड- Dabur India Limited

डाबर इंडिया लिमिटेड भारत का सबसे बड़ा आयुर्वेदिक दवा आपूर्तिकर्ता और एफएमसीजी का चौथा सबसे बड़ा उत्पादक है। यह 1884 से कार्यरत है । इनका सलाना कारोबार 650 मिलियन डॉलर से अधिक है । इसके कारोबार में 15% फार्मास्यूटिकल्स और शेष 85% ज्यादातर गैर-दवाईयां जैसे खाद्य पदार्थ और सौंदर्य प्रसाधन पर दर्ज किया गया है । 

यहाँ पढ़ें : आयुर्विज्ञान की शिक्षा एवं अनुसंधान

डाबर के आयुर्वेदिक स्पेशिएलिटी डिवीजन में बीमारियों और शरीर की स्थितियों के उपचार के लिए 260 से अधिक दवाइयाँ हैं-आम सर्दी से लेकर पुरानी लकवा तक। ये सामग्री डाबर के कुल राजस्व का केवल 7% है (इस प्रकार, 50 मिलियन डॉलर से कम)। डाबर च्यवनप्राश (हर्बल शहद) की बाजार हिस्सेदारी 70% है और शेवेबल हाजमोला डाइजेस्टिव टैबलेट की 88% हिस्सेदारी है।

अन्य प्रमुख उत्पाद डाबर आंवला हेयर ऑयल, वाटिका (शैम्पू), और लाल दंत मंजन (टूथ पाउडर) हैं। डाबर भारत ही विश्‍व में भी आयुर्वेद की अग्रणी आपूतिकर्ता है इनके उत्‍पाद 120 देशों में निर्यात किया जाता है ।

श्री बैद्यनाथ आयुर्वेदिक भवन लिमिटेड – Shree Baidyanath Ayurvedic Bhavan Limited

श्री बैद्यनाथ आयुर्वेदिक भवन लिमिटेड जिसे बैद्यनाथ के नाम से ही जाना जाता है । इसकी स्थापना 1917 में  हुई। यह आयुर्वेदिक दवाओं के उत्‍पाद एवं आपूर्ति की प्रमुख कंपनी रही है । अब यह कॉस्मेटिक और हेयर केयर उत्पादों के साथ एफएमसीजी क्षेत्र में अपना विस्‍तार कर रही है ।

बैद्यनाथ की बिक्री मात्रा लगभग 350 मिलियन डॉलर है, लेकिन अधिकांश उत्पाद की बिक्री कॉस्मेटिक रेंज में है। 700 से अधिक आयुर्वेदिक उत्पादों के उत्‍पादक एवं आपूर्तिकर्ता है । इन उत्‍पादो में हर्बल चाय, पेटेंट दवाएं, साबुन शैम्‍पू, मालिश तेल और च्यवनप्राश आदि  हैं। इसके उत्‍पाद शिकाकाई  शैम्पू का अंर्राष्‍ट्री बाजार में अच्‍छा मांग है । 

पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड- Patanjali Ayurveda Limited

भारत में आयुर्वेदीय चिकित्सा उद्योग - Ayurvedic Medical Industry in India

पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड आयुर्वेद उत्‍पाद कंपनी में शीघ्रता से उन्‍नति एवं प्रसि‍द्धी पाने वाले कंपनी के रूप में दर्ज है । 2006 से कार्य कर रही कंपनी आयुर्वेद के क्षेत्र में काम कर रहे कई पुरानी कंपनियों से कहीं काफी आगे निकल गया है ।

इस कंपनी के उत्‍पाद की निगरानी दिव्‍य योग मंदिर अ्रस्‍ट और पतंजलि योग पीठ करता है । गुड मैन्युफैक्चरिंग प्रैक्टिस (GMP) के पालन करने के लिये अपने देखरेख में लुप्‍तप्राय जड़ी-बुटियों सहित सभी औषधि वनस्‍पति को यहां उगाया जाता है और उससे औषधि निर्माण कराया जाता है।  बाबा रामदेव के नाम से चचर्ति यह कंपनी का आयुर्वेद बाजार में अब अच्‍छी पकड़ बन चुकी है ।

झंडु फार्मास्युटिकल वर्क्स – Jhandu Pharmaceutical Works

झंडु फार्मास्युटिकल वर्क्स को 1919 से कार्यरत है । आज झंडू में एक केमिकल्स डिवीजन और कॉस्मेटिक्स डिवीजन है। इसकी कुल बिक्री मात्रा लगभग 45 मिलियन डॉलर है। इसकी वर्तमान परियोजनाओं में से एक पौधे के अर्क से एक डोपामाइन दवा विकसित करना है, जिसका प्रयोग यू.एस. की एक नई दवा में किया जाना है।

चरक फार्मास्यूटिकल्स – Charak Pharmaceuticals

चरक फार्मास्यूटिकल्स की स्थापना 1947 में हुई । चरक के नाम से यह प्रसिद्ध आयुर्वेदिक दवा उत्‍पादक कंपनी है । यह मानव औषधि के साथ ही पशु चिकित्सा उत्‍पाद का भी उत्पादन एवं आपूर्ति करता है। इसके चर्चित उत्पाद में इवानोवा का नाम आता है । इसके औषधि तरल एवं टेबलेट दोनों रूप में होते हैं । 

यहाँ पढ़ें : आयुर्वेदीय चिकित्सा एवं आयुर्वेदिक औषधियां

विको लेबोर्टिज – Vicco Laboratories

1958 में स्‍थापित यह आयुर्वेदिक उत्‍पादक कंपनी मुख्‍य रूप से समसमायिक उत्‍पाद बनाता मतलब औषधि के अतिरिक्‍त आयुर्वेद आधारित प्रसाधन सामग्री का भी निर्माण करता है । विकोवज्रदंती टूथपेस्‍ट विश्‍व प्रसिद्ध है । विगत 25 वर्षो इसका व्‍यवसाय यू.एस. में भी संचालित है ।

इमामी ग्रुप – Emami Group

1947 में स्‍थापित यह इमामी ग्रुप आयुर्वेद उत्‍पादों की एक श्रृंखला प्रस्‍तुत करती है । कंपनी मुख्य रूप से टॉयलेटरीज़ और कॉस्मेटिक्स उत्‍पाद बनाती है । इसके अतिरिक्‍त च्यवनप्राश और अन्य स्वास्थ्य उत्पाद भी प्रदान करती है। इस कंपनी का सालाना कारोबार लगभग 110 मिलियन डालर है ।

एमिल फार्मास्यूटिकल लिमिटेड – Emile Pharmaceuticals Ltd.

इसकी स्‍थापना 1984 में हुई है । यह आयुर्वेद के विभिन्‍न श्रेणीयों में अधिकांश का प्रतिनिधित्‍व करती है । इस कंपनी का कारोबार लगभग 20 मिलियन डालर सलाना है । आयुर्वेदिक हर्बल योगों के लिये इसकी विशेष प्रसिद्धि है ।

नवायुर हर्बल्स – Navayur Herbals

नवायुर हर्बल्स भारत के शीर्ष आयुर्वेदिक कंपनियों की सूची में सबसे अच्छा माना जाता है । यह फ्रेंचाइजी के द्वारा व्यवसायियों को व्यवसाय के सर्वोत्तम अवसर प्रदान भी कर रही है। यह एक आईएसओ प्रमाणित फर्म हैं और इसके सभी उत्पाद डब्ल्यूएचओ और जीएमपी प्रमाणित इकाइयों के तहत होता है। संगठन भारत के सभी राज्यों और शहरों में आयुर्वेदिक PCD / फार्मा फ्रेंचाइजी प्रदान कर रहा है।

भारत में आयुर्वेदीय चिकित्सा उद्योग - Ayurvedic Medical Industry in India

माहेश्वरी फार्मास्यूटिकल्स इंडिया लिमिटेड – Maheshwari Pharmaceuticals India Ltd.

माहेश्वरी फार्मास्यूटिकल्स इंडिया लिमिटेड भारत में एक तेजी से बढ़ती आयुर्वेदिक कंपनी है । जिसका उद्देश्य स्वास्थ्य विज्ञान की प्राचीन भारतीय प्रणाली के साथ प्रौद्योगिकी को एकीकृत करना है। यह वर्ष 1995 में शुरू हुआ था और तब से यह लगातार आयुर्वेद में अपनी सहभागतिा बढ़ाते जा रही है । कंपनी विनिर्माण से लेकर विपणन तक हर क्षेत्र में नई तकनीक अपना रही है ।

सनत प्रोडक्ट्स – Sanat Products

सनत प्रोडक्ट्स लिमिटेड की स्थापना वर्ष 1984 में हुई थी । यह कंपनी फार्मास्युटिकल, न्यूट्रास्युटिकल्स, कॉस्मीस्यूटिकल्स और हर्बल एक्सट्रैक्ट्स के निर्माण और विपणन में लगी हुई है। कंपनी के पास अनुसंधान और विकास (आर एंड डी) है, जो कॉरपोरेट कार्यालय में सक्षम पेशेवरों के साथ-साथ विनिर्माण संयंत्रों में काम करता है।

सनत प्रोडक्ट्स लिमिटेड का आरएंडडी विंग अत्यधिक उन्नत है और इसे भारत सरकार के विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) द्वारा विधिवत मान्यता प्राप्त है।

बायोलाइफ टेक्‍नोलॉजी – Biolife Technology

इसकी स्थापना वर्ष 1998 में हुई थी। इनका न केवल घरेलू बल्कि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में भी अच्‍छा दखल है । इन्हें ISO 9001-2000 और GMP प्रमाणन भी प्राप्त हुआ है । यह हर्बल अवयवों और फाइटोकेमिकल्स के निर्माण और विपणन में लगी है।

एल्ज़ैक हर्बल्स – Alzac Herbals

एल्ज़ैक हर्बल्स आयुर्वेदिक और हर्बल बाजार में एक जाना-माना और विश्वसनीय नाम है। यह बेहतरीन प्राकृतिक आयुर्वेदिक उत्पादों के साथ बेहतरीन सेवाएं प्रदान करते हैं। इनका प्रयास है कि रसायनों के दुष्प्रभावों के बिना अपने ग्राहक को सर्वोत्तम गुणवत्ता और प्रभावकारिता उत्पाद प्रदान करे । इनकी विकास दर प्रति वर्ष सौ प्रतिशत से अधिक है।

दीप आयुर्वेद – Deep Ayurveda

दीप आयुर्वेद भारत में सबसे अच्छी आयुर्वेदिक कंपनियों में से एक है और मोहाली चंडीगढ़ भारत में स्थित हर्बल स्वास्थ्य देखभाल उद्योग के अग्रणी ब्रांड, वेलनेस क्लीनिक, अनुसंधान कार्य कार्यक्रमों, नैदानिक प्रशिक्षण कार्यक्रमों और आयुर्वेदिक की श्रृंखला के माध्यम से विश्व स्तरीय सेवा और हर्बल उत्पाद प्रदान करता है।

दवा निर्माण और वितरण नेटवर्क। कंपनी सर्वोत्तम आयुर्वेदिक स्वास्थ्य देखभाल सुविधाएं प्रदान करती है और पुरानी बीमारी के लिए पंचकर्म चिकित्सा प्रदान करने के लिए अच्छी तरह से जानी जाती है।

काम आयुर्वेद – Kaam Ayurveda

भारत में काम आयुर्वेद की शुरुआत 2002 में हुई थी। तब से, प्रामाणिक नुस्खों के अनुसार शुद्ध आयुर्वेदिक उत्पाद बनाना ब्रांड का अनूठा उद्देश्य रहा है। आज, काम आयुर्वेद की उच्च गुणवत्ता, खूबसूरती से पैक किए गए उत्पादों को दुनिया भर में बेचा जाता है । इनके उत्पादों को भारत सहित विश्‍व के कई देशों अच्‍छा प्रतिसाद मिल रहा है ।

प्राकृत आयुर्वेद – Prakrit Ayurveda

प्राकृत आयुर्वेद वैकल्पिक चिकित्सा के क्षेत्र में अच्‍छा काम कर रहा है । यह आयुर्वेद के प्राचीन ज्ञान को नवीनतम तकनीक के जोड़कर बहुत परिष्कृत उत्पाद रेंज बनाई है। इनकी कंपनी पहले से ही पूरे भारत में फैली हुई है और CIS & GCC देशों में वितरक स्थापित करके दुनिया भर में विस्तार कर रही है।

आयुर्वेद की जनशक्ति और संस्थागत आँकड़ेAyurveda’s Manpower and Institutional Statistics

भारत सरकार और गैर-सरकारी संगठन भारत में आयुर्वेदिक प्रणाली पर आँकड़े एकत्र करते रहते हैं इन ऑंकड़ो के आधार पर भारत में आयुर्वेदिक चिकित्‍सकों की संख्‍या 4 लाख के आसपास है, आयुर्वेदिक औषधालयों की संख्‍या लगभग 23 हजार, इन अस्‍पतालों में लगभग 34 हजार विबस्‍तर उपलग्‍ध हैं ।

187 शिक्षण संस्‍थान आयुर्वेद में स्‍नातक की डिग्री दे रहे हैं वहीं 51 संस्‍थानों द्वारा उच्‍च स्‍नतकोत्‍र डिग्रीयां दी जा रही है । आयुर्वेदिन दवाओं का निर्माण करने वाले फार्मेसियों की संख्‍या लगभग 9 हजार है ।

यहाँ पढ़ें : आयुर्वेद के अनुसार आपके शरीर की प्रकृति

उपसंहार – Epilogue

प्राचीनतम चिकित्‍सा पद्यति आयुर्वेद आज आधुनिक चिकित्‍सा पद्यति के समय में भी कितना व्‍यवहारिक एवं उपयोगी इस बात का आकलन आयुर्वेदीय चिकित्‍सा उद्योग से ही लगाया जा सकता है । आयुर्वेद चिकित्‍सा पद्यति के आयुर्वेदिक औषधि का बाजार भारत में व्‍यापक होने के साथ-साथ  विश्‍व में इनका मांग लगतातार बढ़ ही रहा है । आयुर्वेदिक उत्‍पादों की पूर्ति के लिये औषधि निर्माता कं‍पनिज की संख्‍या भी लगातार बढ़ रही है। 

आयुर्वेद चिकित्‍सा के महत्‍व इस बात से प्रमाणि हो रहा है कि भारत कुल रजिस्‍टर्ड डाक्‍टरों की संख्‍या 60 प्रतिशत गैर ऐलोपैलिक डाक्‍टर हैं । शहरों से लेकर गॉंवों तक इसका विस्‍तार देखने को मिलता है । किन्‍तु व्‍यवहारिक रूप गैर एलोपैथिक डाक्‍टरों को भी एलोपैथिक उपचार करते हुये देखा जा सकता है । यह आयुर्वेद के विकास में बाधक है, यही कारण कि इतने आयुर्वेदिक कंपनियों औषधी उत्‍पादों के बिक्री से अधिक गैर औषधि उत्‍पाद की बिक्री अधिक है ।

Reference

Ayurvedic Medical industry

Written by Ramesh Chauhan

A Hindi content writer. Article writer, scriptwriter, lyrics or songwriter, Hindi poet and Hindi editor. Specially Indian Chand navgeet rhyming and non-rhyming poem in poetry. Articles on various topics especially on Ayurveda astrology and Indian culture. Educated best on Guru shishya tradition on Ayurveda astrology and Indian culture.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

आयुर्वेदिक आयुर्विज्ञान की शिक्षा एवं अनुसंधान - Education & Research in Ayurved

आयुर्वेदिक आयुर्विज्ञान की शिक्षा एवं अनुसंधान – Education and Research in Ayurvedic Medicine

आयुर्वेदीय चिकित्सा एवं आयुर्वेदिक औषधियां - Ayurvedic Treatment & Ayurvedic Medicine

आयुर्वेदीय चिकित्सा एवं आयुर्वेदिक औषधियां – Ayurvedic Treatment & Ayurvedic Medicine